पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सियासत:सोनिया-गहलोत के पुतले फूंके, विधायक दो खेमे में बंटे

दौसा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सचिन पायलट की बर्खास्तगी के बाद दौसा की राजनीति में आया भूचाल, जिले में कई जगह प्रदर्शन

डिप्टी सीएम सचिन पायलट सहित मंत्रियों एवं पदाधिकारियों को बर्खास्त करने के फैसले के विरोध में दौसा जिले में राजनीतिक भूचाल आ गया। मंगलवार को कार्यकर्ताओं ने सोनिया गांधी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के पुतले फूंके। युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट पर धरने पर बैठ गए।  सुबह कलेक्ट्रेट चौराहे पर महेश कसाना, कृष्ण कसाना, मुकेश पोसवाल, कुलदीप गुर्जर, अमित धूलकोट, पप्पू खेरवाल, रविंद्र जीरोता, रोहिताश दायमा आदि कार्यकर्ताओं ने महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश का पुतला फूंककर विरोध प्रदर्शन किया।

गतिरोध के विरोध में कलेक्ट्रेट पर दिया धरना

युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव हरिमोहन गुर्जर के नेतृत्व में कार्यकर्ता दोपहर में कलेक्ट्रेट पर धरने पर बैठ गए। गुर्जर ने कहा कि राजस्थान में पार्टी कार्यकर्ताओं की सरकार में सुनवाई नहीं होने, पदाधिकारियों को दरकिनार करने एवं वर्तमान में गतिरोध के विरोध में धरना दिया जा रहा है। इसी तरह युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने शाम को सोमनाथ चौराहे पर सोनिया गांधी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुतले फूंक कर उग्र प्रदर्शन किया। कांग्रेस के मीडिया प्रभारी उमाशंकर बनियाना, नेहा निडर, कप्तान डोई, अशोक सिकराय, रामावतार मावई, पार्षद हंसराज गुर्जर आदि कार्यकर्ताओं ने उग्र प्रदर्शन किया तथा पुतले फूंके। जिले के पांच में से चार विधायक कांग्रेस के हैं। इनमें से दो मंत्री गहलोत खेमे में और दो पायलट खेमे में बंट गए हैं। लालसोट विधायक व उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा तथा सिकराय विधायक एवं महिला और बाल विकास मंत्री ममता भूपेश गहलोत खेमे में जमे हुए हैं। वहीं दौसा विधायक मुरारी लाल मीणा और बांदीकुई के विधायक जी आर खटाणा खुलकर पायलट के साथ हैं। महवा के निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला ने अभी पत्ते नहीं खोले हैं। जिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने इस्तीफे तक दे दिए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें