पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दस्त नियंत्रण पखवाड़ा शुरू:बाल मृत्यु दर शून्य करने के लिए सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा शुरू

दौसा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में डायरिया रोग से होने वाली बाल मृत्यु दर को शून्य करने के लिए बुधवार को सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा मनाया सीएमएचओ डाॅ. मनीष चौधरी ने शुभारंभ किया।राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तत्वावधान में सीएमएचओ ने शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सैंथल मोड़ पर 3 वर्ष के बालकों को ओआरएस का घोल पिलाकर सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा का अभियान का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि पांच साल तक के बालकों में दस्त रोग मृत्यु का एक प्रमुख कारण है।

नोडल अधिकारी डिप्टी सीएमएचओ परिवार कल्याण डाॅ. सुभाष बिलोनिया, डाॅ. जयसिंह सिकरवार, डाॅ. निर्मल मीणा, डाॅ. रामखिलाड़ी मीणा व डाॅ. सुमन शर्मा, कुश कुमार आदि मौजूद थे।बच्चों को घर-घर जाकर दिए जाएंगे ओआरएस के पैकेटबांदीकुई |चिकित्सा विभाग के सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़े का शुभारंभ बुधवार को राजकीय अस्पताल बांदीकुई में नगर पालिका चेयरमैन इंदिरा बैरवा ने फीता काटकर किया। बीसीएमएचओ डॉ. कपिल देव मीणा ने बताया कि 6 अगस्त तक 7 माह से 5 वर्ष तक के बालकों को घर-घर जाकर ओआरएस के पैकेट वितरित किए जाएंगे। साथ ही जिंक की गोलियों का भी वितरण होगा। अस्पताल प्रभारी डॉ.एसएन शर्मा व शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील सोनी ने पखवाड़े के बारे में जानकारी दी।

इस दौरान सेवानिवृत्त सीएमएचओ डॉ. ओपी बैरवा, पार्षद रामेश्वर गुर्जर, पूर्व पालिका अध्यक्ष चंद्रमोहन आकोदिया, बीपीएम लोकेश खंडेलवाल सहित अन्य मौजूद रहे।बालकों को चिकित्सा योजनाओं से लाभान्वित करेंलालसोट|ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ धीरज शर्मा ने राजकीय सामुदायिक चिकित्सा केंद्र पर 5 वर्ष के बच्चे को ओ आर एस का घोल पिला कर “सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा अभियानउन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों से आह्वान करते हुए कहा कि अभियान के तहत बालकों को ओआरएस के घोल पिलाएं तथा उन्हें सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़े अभियान के तहत चिकित्सा योजनाओं सेलाभान्वित करें।

खबरें और भी हैं...