लॉकडाउन:लॉकडाउन जैसा सन्नाटा रहा, पूरी तरह से बंद रहे जिले के बाजार

दौसा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिकराय| सरकार की गाइडलाइन के तहत रविवार को वीकेंड कर्फ्यू की सख्ती से पालना की गई। - Dainik Bhaskar
सिकराय| सरकार की गाइडलाइन के तहत रविवार को वीकेंड कर्फ्यू की सख्ती से पालना की गई।
  • बेवजह घूमने वाले 150 लोगों पर की कार्रवाई, रोडवेज डिपो ने 4 बसें निरस्त की, आवश्यक सेवाओं की दुकानों को मिली छूट

कोविड-19 महामारी और ओमिक्रॉन वायरस के बढ़ते खतरे के बीच जिले में रविवार को पहले वीकेंड कर्फ्यू के चलते शहर के व्यस्ततम बाजारों में लाॅकडाउन के समय की यादें ताजा हो गई। आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाजार पूरी तरह बंद रहे हैं। शहर में चौतरफा जन अनुशासन देखा गया। पुलिस ने बेवजह घूमने वाले 150 लोगों से जुर्माना वसूला। यात्री भार कम होने से दौसा आगार की 4 बसें निरस्त की गई। सरकार के बढ़ते कोरोना के खतरे को काबू करने के लिए रविवार को वीकेंड कर्फ्यू लगाने की गाइड लाइन जारी की गई। इस दौरान शहर के सभी बाजार पूरी तरह बंद रहने से सन्नाटा पसरा रहा। इनमें गांधी तिराहा, लालसोट, रोड, मानगंज, नई मंडी रोड, सैंथल मोड़, पूनम सिनेमा के पीछे, तिब्बती मार्केट, सैंथल मोड़, सोमनाथ नगर आदि बाजार बंद रहे। वहीं पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालू होने के बावजूद वाहनों की भी आवाजाही कम रही, वहीं यात्री भार कम होने से दौसा आगार से 4 बसें निरस्त कर दी गई, वहीं अधिकांश बसों में भी यात्री भार कम रहा। बस स्टैंडों पर यात्रियों की संख्या नगण्य रही। पुलिस ने शहर में गश्त लगाकार व्यवस्थाओं का जायजा लिया, वहीं कई जगह चेक पोस्ट बनाकर बेवजह घूमने वाले लोगों से 150 लोगों पर कार्रवाई कर जुर्माना वसूला।

बांदीकुई में दिखा मिलाजुला असर बांदीकुई| कोरोना की तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार ने रविवार को पहला वीकेंड कर्फ्यू लागू किया, लेकिन कर्फ्यू में बिना वजह घूम रहे लोग पुलिस के सामने बहाने करते नजर आए। पुलिस ने भी इनके बहानों को नहीं सुनकर इनके खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की। कर्फ्यू को लेकर पुलिस सुबह से ही तैनात हो गई। शहर के प्रमुख स्थल आगरा रेलवे फाटक पर सुबह 9 बजे से बिना वजह एवं बिना मास्क घूमने वालों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई करना शुरू कर दिया। इस दौरान एक मोपेड पर बिना मास्क लगाकर आए 60 वर्षीय व्यक्ति को पुलिस ने रोककर जुर्माने की कार्रवाई की तो उसका कहना था कि उसके बेटे उसे मास्क के लिए ही रुपए नहीं देते है ऐसे में वह चालान की राशि कहां से देगा। बार- बार पुलिस के जुर्माने की 100 रुपए राशि देने का प्रेशर बनाने पर उसने पुलिस को जेब में से 60 रुपए निकालकर दिए, लेकिन पुलिस ने उससे जुर्माने की 100 रुपए राशि लेकर ही छोड़ा।

गाइडलाइन के बाद भी बसों में रही भरी
लालसोट| वीकेंड कर्फ्यू के दौरान लालसोट शहर के बाजार पूरी तरह बंद रहे। लोगों की आवाजाही भी कम रही, जिसके कारण सड़कों पर भीड़ कम नजर आई। मगर अपने गंतव्य स्थल तक पहुंचने वाले मुसाफिरों की भीड़ बस स्टैंड तथा बस रुकने के स्थान पर बनी रही। रोडवेज सहित निजी बसों का संचालन भी कम रहा, जिसके कारण जयपुर, गंगापुर व अन्य जगह पर जाने वाली बसों में बैठने के लिए लोगों में मारामारी बनी रही। बसों में जितनी सीट उतनी ही सवारियों को बैठाकर ले जाने का गाइडलाइन जारी किए जाने के बावजूद बसें यात्रियों से खचाखच भरी हुई रही, बसों की छत पर बैठकर यात्रियों ने सफर किया।

लवाण| कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के बढ़ते संक्रमण को लेकर रविवार को वीकेंड कर्फ्यू में इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर लवाण पूर्ण रूप से बंद रहा। थानाधिकारी हरदयाल मीणा ने बताया कि गाइडलाइन की पालन नही करने पर बिना मास्क घूमते 12 लोगों के चालान काटकर जुर्माना वसूला गया।
सैंथल| कस्बे सहित आसपास क्षेत्र में सुबह से ही वीकेंड कर्फ्यू का असर दिखाई दिया। पुलिसकर्मियों ने सुबह से ही जीप से गश्त कर खुली दुकानों को समझाइश कर बंद कराया। कस्बे में बेवजह बाइक से घूमने वाले लोगों, बिना मास्क वालों के चालान काटे।

खबरें और भी हैं...