पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dausa
  • Todabhim MLA Raised The Demand For Cabinet Expansion And Political Appointments; Said I Am A Staunch Supporter Of Sachin Pilot, High Command Should Fulfill Our Ten Month Old Demands

पायलट खेमे के विधायक का खेमा बदलने से इनकार:पीआर मीणा बोले- पायलट कहेंगे मरना है तो मर जाएंगे, जहां पायलट कहेंगे वहां जाएंगे, मुख्यमंत्री ने मेरे दो-चार काम अच्छे किए तो धन्यवाद देना ड्यूटी बनती है

दौसा12 दिन पहले
दौसा के भंडाना में पुष्पांजलि अर्पित करते टोडाभीम MLA पीआर मीणा

टोडाभीम से कांग्रेस विधायक पीआर मीणा ने अशोक गहलोत खेमे में जाने की अटकलों को खारिज करते हुए सचिन पायलट के साथ होने का दावा किया है। शुक्रवार को दौसा के भंडाना में राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देने के बाद मीडिया से बात करते हुए पीआर मीणा ने कहा-जहां पायलट साहब कहेंगे वहां जाएंगें। पायलट साहब कहेंगे मरना है तो मर जाएंगे। मैं मरते दम तक पायलट के साथ रहूंगा। पायलट के साथ था, हूं और रहूंगा। उल्लेखनीय है कि पीआर मीणा ने एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी।

पाला बदलकर गहलोत खेमे में जाने के सवाल पर मीणा ने कहा- मुख्यमंत्री ने मेरे दो चार काम बढ़िया किए, तो उन्हें धन्यवाद देना मेरी ड्यूटी बनती है। गहलोत साहब कहां से आए, हमने ही तो बनाया है और वे कांग्रेस के ही तो हैं। उन्होंने मेरे दो-चार अच्छे काम किए हैं तो मैंने उनकी तारीफ की है। इसमें क्या बुराई है।

विधायकों ने सही बात उठाई है, 10 माह पुराने मुद्दे जल्द सुलझाए आलाकमान
बगावत के बाद हुई सुलह में उठे पायलट गुट के मुद्दों के अब तक अनसुलझे रहने के सवाल पर पीआर मीणा ने कहा- यह गलत बात है।आलाकमान को जल्द निर्णय लेना चाहिए। सब लोग इंतजार कर रहे हैं कि मंत्रिमंडल बने। तीन तीन बार के विधायक इंतजार कर रहे हैं। पंजाब में 10 दिन में और यहां 10 महीने से मुद्दों का हल नहीं होने के पायलट समर्थकों के बयान पर मीणा ने कहा- पहले तो दो महीने का ही कहा था, लेकिन यह सही बात है अब जल्द फैसला करना चाहिए।

तो मान लेता सभी मांगें
सचिन पायलट गुट की मांगें दस माह बाद भी पूरी नहीं होने के सवाल पर कहा, यदि मैं आलाकमान होता तो अभी सारी मांगें मान लेता। मीणा ने आलाकमान द्वारा मांगें नहीं मानने की स्थिति में आगे की रणनीति के बारे में कहा कि मैं सचिन पायलट का कट्टर समर्थक हूं और वो जो भी निर्णय करेंगे, हम उसकी पालना करेंगे।

गांधी परिवार के बिना कांग्रेस संभव नहीं
कांग्रेस अध्यक्ष बदलने के सवाल पर विधायक मीणा ने कहा कि गांधी परिवार के बिना कांग्रेस एकजुट नहीं रह सकती। ऐसे में अभी गांधी परिवार का नेतृत्व है और आगे भी रहना चाहिए। युवा नेताओं के पार्टी छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह बात तो उनसे ही पूछी जाए, लेकिन हम कहीं नहीं जाएंगे और कांग्रेस में रहेंगे।

खबरें और भी हैं...