पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कलश यात्रा:गिरिराज धरण मंदिर के पाटोत्सव पर अखंड रामायण पठन, भव्य कलश यात्रा निकाली

दौसा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गिरिराज धरण मंदिर का 15वां पाटोत्सव शनिवार को मनाया गया। इस अवसर पर भव्य कलश यात्रा निकाली गई। ठाकुरजी का अभिषेक कर आकर्षक श्रंगार किया गया। मंदिर में अखंड रामायण पाठ शुरू किया। सुबह सोमनाथ मंदिर से कलश यात्रा गाजे बाजे के साथ रवाना हुई। जो सोमनाथ चौराहा, सरस डेयरी, आगरा रोड होते हुए गिरिराज धरण मंदिर पहुंची। पाटोत्सव के दौरान विधि विधान से ठाकुरजी का अभिषेक किया गया। इसके बाद आकर्षक श्रंगार कर रत्न जड़ित पोशाक धारण कराई गई। मंदिर में अखंड रामायण पाठ शुरू किया गया।पाटोत्सव के दौरान झांकी के दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। देर शाम तक लोगों ने ठाकुरजी के दर्शन किए। गिरिराज धरण सेवा संस्थान ट्रस्ट के सचिव द्वारका प्रसाद टटार ने बताया कि अखंड रामायण पाठ चित्रकूट के पंडितों द्वारा किया। ट्रस्ट अध्यक्ष जुगल सिंह बारेठ, अशोक चोकड़ायत, हीरालाल गुप्ता, गोपाल गुप्ता, सतीश शाहरा, राकेश दुसाद, हरिमोहन शाहरा आदि मौजूद रहे।

सैन महाराज व नारायणी माता की कथा शुुरू

दौसा|केशकला विकास प्रबंधन संस्थान के तत्वावधान में सैन महाराज व नारायणी माता की संगीतमय कथा शनिवार को बरसाना गार्डन में शुरू हुई। इस अवसर पर शहर में भव्य कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा लक्ष्मीनारायण बलदाऊ मंदिर पुराना बाजार से सुबह गाजे बाजे के साथ रवाना हुई। जो लालसोट रोड, गांधी तिराहा, जयपुर रोड से फलावाला बालाजी रोड होते हुए कथा स्थल पर पहुंची। इस बीच लोगों ने जगह-जगह कलश यात्रा का स्वागत किया। कलश यात्रा में सैन महाराज व नारायणी माता की झांकी भी सजाई गई। संस्थान के अध्यक्ष नरसीलाल सैन ने बताया कि भक्त शिरोमणि सैन महाराजव कर्मावति नारायणी माता की संगीतमय कथा का समापन 9 फरवरी को होगा। इस दौरान लाला सैन सोनू सैन सहित अनेक लोग थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें