• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Dausa
  • When People Arrived After Hearing The Sound Of The Blast, Three Hunters Fled With Their Bikes, Meat Was Found In Sacks And Plastic Bags.

बंदूक से गोलीमार कर नीलगाय का शिकार:धमाके की आवाज सुनकर लोग पहुंचे तो बाइक से भाग छूटे तीन शिकारी, कट्टे व प्लास्टिक के बैग में भरा मिला मांस

दौसा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिकंदरा के मोहचिंगपुरा गांव में कट्‌टे में भरा मांस। - Dainik Bhaskar
सिकंदरा के मोहचिंगपुरा गांव में कट्‌टे में भरा मांस।

जिले के सिकंदरा थाना क्षेत्र में नीलगाय का शिकार करने का मामला सामने आया है। मोहचिंगपुरा गांव के पास बीती देर रात बाइक सवार तीन लोगों ने पहले बंदूक से फायरिंग कर नीलगाय का शिकार किया। इसके बाद नीलगाय के मांस को कट्टे में भरकर पैक किया जा रहा था। जहां मौके पर पहुंचे आसपास के लोगों को देखकर शिकारी बाइक लेकर भाग गए। लोगों ने पुलिस तथा वन विभाग को सूचना दी, लेकिन कोई रेस्पांस नहीं मिला। इससे शिकारी भागने में सफल हो गए। राणोली चौकी पुलिस के साथ वनकर्मी गुरुवार सुबह मौके पर पहुंचे जिन्होंने पूरे मामले की जानकारी लेकर जल्द ही शिकारियों को पकड़ने की बात कही है।

लोग पहुंचे तो भाग छूटे शिकारी

ग्रामीणों ने बताया कि जब से सरसों की फसल की ओट होने लगी है। तब से ही शिकारियों को इधर-उधर घूमते देखा जा रहा है। बीती देर रात कारोली के पास खेतों में धमाके की आवाज सुनाई दी। इस पर बैरवा ढाणी के कई लोग मौके पर पहुंचे तो टॉर्च की रोशनी देख तीन लोग बाइक लेकर फरार हो गए। जहां एक खेत में मृत पडी नीलगाय का मांस कट्टे व प्लास्टिक के बैग में भरा मिला। लोगों का आशंका है कि शिकारी वन्यजीवों का शिकार कर मांस को महंगे दामों में बेचने का धंधा कर रहे हैं।

वन विभाग नहीं कर रहा कार्रवाई
वहीं मोहचिंगपुरा सरपंच रघुनाथ सैनी ने बताया, गांव से दूर खेतों में पिछले एक महीने में कई बार शिकारियों द्वारा नीलगाय का शिकार करने की जानकारी मिली रही थी। इसकी सूचना वन विभाग व पुलिस को दे चुके हैं। अभी तक कोई कार्रवाई नहीं होने से शिकारी बेखौफ होकर वन्यजीवों का शिकार कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...