छात्र को शिक्षक ने पीटा:छात्र ने कड़ा उतारने के लिए मना किया तो शिक्षक ने पीटा

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • छात्र की अंगुली और पैर में चोट के निशान

कस्बे की सीनियर स्कूल में एक शारीरिक शिक्षक द्वारा एक छात्र के साथ मारपीट का मामला प्रकाश में आया है। शारीरिक शिक्षक राजेश राजोरिया ने ग्यारहवीं कक्षा के छात्र अभिषेक मीना निवासी ढाणी चौलालान की पिटाई कर दी। जिससे छात्र के हाथ की अंगुली, पैर सहित शरीर में चोट आई। पीड़ित छात्र ने बताया कि वह स्कूल गया तो गेट के अंदर शारीरिक शिक्षक सहित अन्य अध्यापक खड़े थे। इस दौरान मुझे रोककर हाथ में पहने चांदी कड़े को उतारने की कही।

मैंने कहा यह माताजी की मान्यता का कड़ा है। जिसे में बचपन से पहन रखा है। इसको में नहीं उतार सकता। छात्र की न सुनकर शारीरिक शिक्षक आग बबूला हो गए और अन्य छात्रों के सामने ही मारपीट करने लग गए।छात्र के परिजन दिलकुश ने बताया कि अध्यापक ने छात्र के साथ डंडे से मारपीट की जिसके शरीर पर निशान बन गए। छात्र जोर जोर से चिल्लाता रहा, लेकिन अध्यापक को जरा भी रहम नहीं आया। मारपीट के दौरान छात्र की उंगली से खून बहता रहा, लेकिन उसका उपचार भी नहीं कराया गया।

छात्र के पिता प्रहलाद मीना ने बताया कि कोरोना के कारण लंबे समय बाद बालक स्कूल जाने लगे है और शिक्षक द्वारा बेरहमी से मारपीट करने से गम्भीर चोट आई हैं। प्रधानाचार्य को मामले से अवगत कराया गया है। इस मामले पर शारीरिक शिक्षक राजेश राजोरिया ने कहा की छात्रों में भय के लिए मारपीट करना जरूरी है। मैंने छात्र को हाथ से कड़ा उतारने को कहा तो उसने सभी छात्रों के सामने उतारने से मना कर दिया। जिससे गुस्सा आ गया और मारपीट करने से छात्र को कुछ चोट लगी। इस मामले पर प्रधानाचार्य भोजराज मीना ने बताया कि शारीरिक शिक्षक द्वारा छात्र के साथ मारपीट की शिकायत मिली है। परिजनों को बुलाकर समझाइश की गई है।

खबरें और भी हैं...