पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आक्रोश:प्रशासन ने रुकवाया श्रीराम रथ, संगठनों में रोष

देवली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निधि समर्पण के लिए निकाले जा रहे रथ काे आचार संहिता के कारण नहीं निकलने दिया

यहां शहर में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद एवं अन्य हिंदू संगठनों द्वारा शनिवार दोपहर निधि समर्पण के लिए निकाले जा रहे श्रीराम भगवान के रथ को प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर एकाएक रुकवा दिया। जिससे विश्व हिंदू परिषद समेत कई हिंदू संगठनों में रोष व्याप्त हो गया। प्रशासन का कहना रहा कि आचार संहिता एवं कोरोना गाइडलाइन के तहत यह कार्यक्रम या रैली आयोजित नहीं हो सकती। मामले के अनुसार विश्व हिंदू परिषद द्वारा शहर व ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों भगवान श्री राम मंदिर निर्माण के लिए धन एकत्र करने के लिए निधि समर्पण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान को और गति देने एवं ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में निधि समर्पण जागरूकता लाने के लिए आदर्श विद्या मंदिर से श्री राम रथ निकाला जा रहा था। जैसे ही इस जुलूस की सूचना प्रशासन को मिली तो उपखंड अधिकारी एसडीएम भारत भूषण गोयल, देवली तहसीलदार सर्वेश्वर निंबार्क, देवली थाना प्रभारी रामनारायण चौधरी, हनुमान नगर थाना प्रभारी मोहम्मद इमरान एवं जहाजपुर के एसडीएम एवं डीवाईएसपी मौके पर पहुंच गए एवं निकाले जा रहे जुलूस पर आचार संहिता का हवाला देते हुए रोक लगा दी। प्रशासन की एकाएक इस कार्रवाई से हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त हो गया।इस दौरान गहरा रोष व्यक्त करते हुए प्रशासन के समक्ष डट गए की कैसे भी हो अब भगवान श्रीराम का जुलूस तो निकल कर ही रहेगा। मामला बढ़ता देख प्रशासन ने हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं एवं आयोजक जसवंत सिंह, अभियान प्रमुख सीताराम पंचोली समेत कार्यकर्ताओं से वार्ता की। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने साफ शब्दों में यह कह दिया कि अब तो प्रभु श्रीराम का रथ निकलेगा भगवान श्री राम किसी पार्टी विशेष के नहीं हैं बल्कि जन-जन के आराध्य हैं। आज जब उनके मंदिर निर्माण का लंबे अरसे बाद काम शुरू हुआ है तो क्षेत्र के लोग इस निर्माण में अपना भी कुछ अंशदान करना चाहते हैं। इसी जागृति के लिए यह जुलूस निकाला जाना गलत नहीं है। उधर लंबी जद्दोजहद के बाद हिंदू संगठनों ने प्रशासन की मंशा को भांपते हुए राम रथ को निकालने का आयोजन निरस्त कर दिया। इस आयोजन को देखते हुए प्रशासन ने हनुमान नगर पुलिस, देवली पुलिस एवं अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर तैनात कर आदर्श विद्या मंदिर को घेर लिया। ताकि यह जागरूकता रथ नहीं निकल सके। प्रशासन की इस कार्रवाई से हालांकि हिंदू संगठनों में रोष व्याप्त है। निधि समर्पण अभियान के सीताराम पंचोली ने बताया कि अब यह जुलूस आचार संहिता के बाद ही निकाला जाएगा। तब जाकर प्रशासन ने राहत की सांस ली। एसडीएम भारत भूषण गोयल ने बताया कि ऐसा आचार संहिता की पालना में किया गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें