पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्मिकों को दिए निर्देश:सीडीपीओ ने 2 दिन बाद कार्मिकों को दिए निर्देश

देवली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आशा सहयोगिनियों के झुलसने के मामले की जानकारी दो दिन पूर्व बाल विकास परियोजना अधिकारी सत्येंद्र चौहान को लगी। इस पर महिला पर्यवेक्षकों को पत्र लिखकर जानकारी दी। बताया कि आशा को दी कीटनाशक दवा में एसिड बनने के कारण शहर के माया मीणा एवं माया रानीवाल झुलस गई। परियोजना अधिकारी ने दवा का उपयोग नहीं करने तथा सावधानीपूर्वक करने के निर्देश दिए हैं । जैसे ही शनिवार को इस मामले का खुलासा हुआ तो इस घटना से अन्य आशाओं में भय व्याप्त हो गया है। इन वर्करों का कहना है कि यह हमारे जीवन के साथ खिलवाड़ है इस मामले में दोषियों को सजा मिलनी चाहिए अन्यथा महिला बाल विकास परियोजना के कार्मिक ऐसे कार्य में भाग लेने से कतर आने लगेंगे। पीड़िता मंजू रानीवाल एवं माया मीणा ने बताया कि 13 अक्टूबर को राजकीय चिकित्सालय से आशा सहयोगिनीयों को मच्छरों का लारवा नष्ट करने के लिए एमएलओ दिया गया था। जिस का छिड़काव वार्डों में जाकर करना था। जब पीड़िताओं ने छिड़काव के लिए बोतल को खोला तो एमएलओ गैस बन कर तेजी से उनके शरीर पर आ गिरा जिससे उनका चेहरा हाथ व अन्य अंग बुरी तरह से झुलस गए। जब दिखाने गए अस्पताल में तो इलाज करने के लिए ही मना कर दिया। जब भय सताने लगा तो गुपचुप तरीके से इलाज करना शुरू कर दिया। एसएस शर्मा,अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी-पूरे मामले की जानकारी जुटा ली गई है पीड़िताओं एवं संबंधितो के ध्यान बयान दर्ज कर लिए गए हैं। अब तथ्यात्मक जांच रिपोर्ट तैयार कर सीएमएचओ को सौंपी जाएगी।झुलसे हुए चेहरे कहीं कलंक नहीं बन जाएं आशा सहयोगिनी प्रकरण में चाहे कुछ भी हो लेकिन यदि झुलसी हुई महिलाओं का उच्च स्तर पर इलाज नहीं हुआ तो कहीं यह उनके लिए कलंक नहीं बन जाए उनका सदा सदा के लिए चेहरे का सौंदर्य ही चला जाए संभावनाएं हैं इसका जिम्मेदार चिकित्सा विभाग ही होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें