लापरवाही पड़ी भारी:1.50 लाख की राशि वसूली, 24 प्रतिष्ठान सीज

देवली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देवली में गाइड लाइन की अवहेलना करने पर प्रशासन ने किए 653 चालान

विंकेड लॉकडाउन व उसके बाद लगे जन अनुशासन पखवाड़े की घोषणा के बाद जारी हो रही सरकार की गाइड लाइन के अनुसार स्थानीय प्रशासन भी सख्त है। इंसिडेंट कमांडर व एसडीएम भारत भूषण गोयल के नेतृत्व में गठित टीम ने अप्रैल माह में करीब 653 चालान मंगलवार तक काटकर करीब 1 लाख 11 हज़ार 700 रुपए की राशि वसूल की है। वही दो दर्जन दुकानों को 3 मई तक सीज करने की कार्रवाई की गई है।यहां उल्लेखनीय है कि दिनों दिन बढ़ रहे कोरोना को लेकर सरकार द्वारा जारी निर्देशों की पालना में स्थानीय प्रशासन सख्त से सख्त कदम उठाता जा रहा है। इसके बावजूद आमजन अपनी आदतों में सुधार करने में ना तो बाज रहे हैं और ना ही नियमों का पालन करते हैं।

राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर केंद्र के निर्देश पर नई नई गाइडलाइन निकाल कर आमजन को बचाने की कोशिश कर रही है। इस भयावह स्थिति का आमजन को भी पता है। इसके बावजूद पता नहीं लोग सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। हालांकि कुछ गणमान्य नागरिक एवं नौकरी पेशे से जुड़े लोग इन नियमों का जरूर पालन करते हैं बाकी हर रोज कहीं न कहीं पुलिस की डांट खाते लोग नजर आते हैं। इंसिडेंट कमांडर व एसडीएम भारतभूषण गोयल की अगुवाई में गठित टीमों ने देवली के विभिन्न बाजारों में कार्रवाई करते हुए गाइडलाइन के उल्लंघन पर मंगलवार तक 653 चालान किए है। एसडीएम ने बताया कि इस संख्या में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नही लगाने , सामाजिक दूरी बरकरार नही रखने के मामले शामिल है।

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान प्रतिबंध के बावजूद खुले 23 प्रतिष्ठानों को सीज कियागया है। इसी तरह मंगलवार को 23 चालान किए गए। वहीं इनके पेटे 3 हजार700 रुपए वसूले। वहीं बुधवार को 32 दुपहिया वाहन चालकों को उल्लंघन करने पर जुर्माना वसूला। वहीं एक चौपहिया वाहन का भी चालान किया। वहीं 13 बाइके जब्त कर जुर्माना राशि 3400 रुपए वसूल किए है है। इस दौरान सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने पर लोगों से एक हजार का जुर्माना भी वसूल किया हैं।

खबरें और भी हैं...