फागी-भीलवाड़ा मेगा हाईवे तस्करों का नया रूट:दो तस्कर चढ़े पुलिस के हत्थे, 49 किलो डोडा पोस्त के साथ पिकअप जब्त

दूदू3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर ग्रामीण एसपी मनीष अग्रवाल के द्वारा अपराधों की रोकथाम और अवैध मादक पदार्थों की तस्करी रोकने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत डीएसटी टीम ओर रेनवाल मांजी थाने की रविवार को दोपहर 2 बजे संयुक्त कार्रवाई की गई।

जानकारी के अनुसार मेगा हाईवे पर नाकाबंदी के दौरान एक संदिग्ध पिकअप गाड़ी को रुकवाया गया। चेकिंग के दौरान पिकअप गाड़ी में दो अलग-अलग प्लास्टिक के कट्टो में 49 किलो 200 ग्राम अवैध डोडा पोस्त भरा हुआ मिला। पुलिस ने पिकअप सवार दो लोगों को मौके पर ही धर दबोचा।

थानाधिकारी उपनिरीक्षक किरण सिंह यादव ओर डीएसटी टीम के उप निरीक्षक राकेश कुमार ने संयुक्त टीम बनाकर कार्रवाई को अंजाम दिया। उप निरीक्षक यादव ने बताया कि शातिर तस्कर निमेहड़ा चित्तौड़गढ़ से डोडा पोस्त लेकर चौमू लेकर जा रहे थे।

डीएसटी टीम की मुखबिर की सूचना पर नाकाबंदी लगाई गई। एक एक वाहन की गहन तलाशी के दौरान पिकअप में डोडा पोस्त मिलने और गाड़ी को जब्त कर आरोपी सीताराम सैनी पुत्र बाबुलाल माली निवासी सामोद जयपुर व नंचु राम पुत्र भंवर लाल निवासी मोरिजा सामोद को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से पुलिस टीम द्वारा गहन पूछताछ जारी है। साथ ही तस्करों के आपराधिक रिकार्ड भी खंगाला जा रहा है।

12 पुलिस कर्मियों की टीम बना कर की कार्रवाई

शातिर तस्करों को पकड़ने के लिए ग्रामीण एसपी मनीष अग्रवाल के निर्देश पर 12 पुलिस कर्मियों की टीम बनाइ गई। जिसमें कांस्टेबल राजपाल द्वारा मुखबिर तंत्र से तस्करों के तार चौमू से जुड़े होने पर तकनीकी आधार पर कामयाबी मिली।

निमेहड़ा से केकड़ी- मालपुरा-डिग्गी-फागी तक के थानों को पार करते हुए जयपुर की सीमा पर पहुच चुके थे। तस्करी में शामिल आरोपियों के इस नेटवर्क को देखते हुए पुलिस टीम तस्करी में शामिल अन्य नेटवर्क को भी खंगाला जा रहा है।

खबरें और भी हैं...