मोरेल बांध का 5 फीट गेट खोलने से नहर ओवरफ्लो:10KM क्षेत्र में जगह-जगह से नहर टूटी, 50 बीघा फसलों में भरा पानी

गंगापुर सिटी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेतो में भरा पानी। - Dainik Bhaskar
खेतो में भरा पानी।

मोरेल बांध की मुख्य नहर के 10 किलोमीटर क्षेत्र में जगह-जगह नहर टूट जाने से करीब 50 बीघा खेतों में गेंहू व सरसों की फसल खराब हो गई। मोरेल बांध की मुख्य नहर में 21 नवंबर को पानी छोड़ा गया था। नहर में सफाई का काम नहीं होने से फाल कचरा अटक जाने से नहर टूट गई। सफाई नही होने से नहर डंप यार्ड तक बन गया है।

बामनवास विधानसभा क्षेत्र के गालद कला से लेकर मलारना डुंगर तक नहर कई कह टूट जाने से खेतों में पानी भर गया है। गालद कला के किसान हेमराज मीना ने बताया कि नहर टूट जाने से करीब 20 बीघा सरसों की फसल खराब हो गई। हर साल इस तरह की समस्या आती है। सुंदरपुर गांव के किसान प्रभाती लाल प्रजापत का कहना है कि नहर टूटकर उनके खेतों में पानी का भराव हो गया। जिससे गेंहू की फसल खराब हो गई।

इस बारे में सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता चेतराम मीणा से मौका स्थिति के बारे में अवगत कराया तो उन्होंने बताया कि मोरेल बांध से 5 फीट का गेज खोल दिया गया है, जिससे नहर ओवरफ्लो हो गई है। बांध पर कार्यरत कार्मिकों से कहा गया है कि 3 फीट का गेज खोले जिससे पानी ओवरफ्लो नहीं हो। सफाई काम के लिए 60 लाख की राशि की डिमांड की गई थी। विभाग की ओर से राशि स्वीकृत नहीं की गई है। हम हमारे स्तर से ही सफाई काम कर रहे है।

खबरें और भी हैं...