पत्नी साथ नहीं आई तो खाई चूहे मारने की दवा:मारपीट से परेशान पत्नी चली गई थी जीजा के घर, साथ आने से किया मना

गंगापुर सिटीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
युवक को गंभीर हालत में जयपुर रेफर किया गया है, जहां उसकी हालत में सुधार है। - Dainik Bhaskar
युवक को गंभीर हालत में जयपुर रेफर किया गया है, जहां उसकी हालत में सुधार है।

गंगापुर सिटी के वजीरपुर थाना क्षेत्र में एक युवक ने चूहे मारने की दवा खा ली, इससे वह बेहोश हो गया। युवक को गंगापुर सिटी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टर ने उसे जयपुर रेफर कर दिया। युवक की हालत स्थिर बताई जा रही है। युवक सोमवार को अपने साढू के यहां रह रही पत्नी को लेने गया था, लेकिन पत्नी ने साथ चलने से मना कर दिया। इससे नाराज होकर युवक ने चूहे मारने की दवा खा ली।

वजीरपुर थाना के थानाधिकारी योगेंद्र शर्मा ने बताया कि डोब गांव के जितेंद्र वैष्णव की शादी डेढ़ साल पहले बाटोदा गांव की मिथलेश से हुई थी। 1 साल तक पति-पत्नी के संबंध अच्छे थे, लेकिन बाद में पति जितेंद्र पत्नी मिथलेश के साथ मारपीट करने लगा। मारपीट से परेशान होकर पत्नी ने पति के खिलाफ वजीरपुर थाने में दहेज मांगने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया गया था।

उन्होंने बताया कि तीन दिन पहले भी जितेंद्र ने मिथलेश के साथ मारपीट की थी, इससे परेशान होकर पत्नी अपनी जीजा राहुल वैष्णव के घर आ गई थी। जितेंद्र सोमवार शाम को अपनी पत्नी को लेने अपने साढू के घर गया था, लेकिन पत्नी ने उसके साथ जाने के लिए मना कर दिया। इस पर जितेंद्र ने चूहे मारने की दवा खा ली। गंभीर हालत में उसे जयपुर रेफर किया गया। जहां इलाज के बाद उसकी हालत में सुधार है। जितेंद्र वैष्णव गंगापुर सिटी में टेंपो चलाने का काम करता है।