पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कांग्रेस में बगावत:टिकट नहीं मिली, पूर्व पालिकाध्यक्ष सहित पूर्व पार्षदों ने ठोकी ताल

गंगापुर सिटी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पार्टी, संगठन और अनुशासन का वास्ता देकर चुनाव मैदान से हटने के लिए बना रहे दबाव

नगर परिषद चुनावों में नामांकन का दौर खत्म होने के बाद वार्डों की तस्वीर अब करीब करीब साफ हो गई है। हर वार्ड से कई लोग पार्टियों का टिकट मांग रहे थे लेकिन जिसे टिकट मिला उसे छोड़कर शेष दावेदार निराश हुए हैं। हालांकि कई दावेदारों ने निर्दलीय के रूप में पर्चा दाखिल कर बगावत की ताल ठोक दी है। बागियों के कारण कई वार्डों में मुकाबला त्रिकोणीय होने की उम्मीद है।हालांकि पार्टियां अब बागियों की मान मनव्वल कर उन्हें पर्चा वापस लेने का प्रयास कर रही हैं लेकिन कई बागियों के तेवर देखकर लगता है कि वे मैदान में डटे रहने का फैसला कर चुके हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि पार्टी के बड़े नेता कितने बागियों को मनाने और उन्हें पर्चा वापस लेने के लिए राजी करने में कामयाब रहते हैं।बगावत करने वालों में सबसे बड़ा नाम पूर्व पालिकाध्यक्ष रही गीतादेवी नरूका का है। गीतादेवी नरूका 2005 से 2010 तक कांग्रेस के सिंबल पर नगर पालिका की अध्यक्ष रही। पिछले चुनाव में भी नरूका कांग्रेस का सबसे बड़ा चेहरा थी और नगर परिषद सभापति के रूप में उन्हें कांग्रेस ने टिकट दिया था। वे महज एक वोट से भाजपा की संगीता बोहरा से हार गई। इस बार भी उन्हें कांग्रेस की तरफ से सभापति पद के लिए दावेदार माना जा रहा था। उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया था लेकिन पार्टी ने उन्हें कांग्रेस का पार्षद का भी टिकट नहीं दिया। उनके स्थान पर विधायक रामकेश मीणा के खास माने जाने वाले हनुमान लोहेवाले को कांग्रेस का टिकट दिया गया। टिकट कटने से खफा गीतादेवी ने बगावत करते हुए वार्ड 34 से चुनाव मैदान में ताल ठोकने की घोषणा कर दी है।कांग्रेस में ही बगावत का एक और चेहरा यूथ कांग्रेस के विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष रहे मदन पचौरी का है। पचौरी गत चुनावों में कांग्रेस के टिकट से वार्ड पार्षद के उम्मीदवार थे लेकिन चुनाव हार गए। पचौरी के चाचा रघुनंदन पचौरी पीसीसी के सदस्य भी रह चुके हैं। इस बार फिर उन्होंने वार्ड 13 से कांग्रेस के टिकट की दावेदारी जताई थी लेकिन टिकट मिला ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष हरगोविंद कटारिया को। अब पचौरी ने भी बगावत का मोर्चा खोल दिया है और चुनाव मैदान में डटने की घोषणा कर दी है।इसी प्रकार पूर्व में कांग्रेस के टिकट पर पार्षद रहे रविकांत मिश्रा ने भी इस बार वार्ड 16 से कांग्रेस का टिकट मांगा था लेकिन पार्टी ने उनका टिकट काट दिया गया। अब रविकांत ने निर्दलीय के रूप में चुनाव मैदान में डटने की घोषणा कर दी है। कांग्रेस के टिकट पर ही पार्षद रही आशा सिंघल ने इस बार वार्ड 53 से कांग्रेस का टिकट मांगा था लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया, उन्होंने भी निर्दलीय के रूप में कांग्रेस से बगावत कर चुनाव मैदान में ताल ठोक दी है। पूर्व में पार्षद रहे रईस खान ने वार्ड 14 से, देवेंद्र अग्गो ने वार्ड 17 से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। कांग्रेस के टिकट पर पूर्व में पार्षद रहे अरविंद गोगोरिया के परिवार से जितेंद्र गोगोरिया ने भी इस बार कांग्रेस का टिकट मांगा था लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने भी निर्दलीय के रूप में चुनाव मैदान में ताल ठोक दी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser