8 घंटे बिजली के खंभे पर लटका रहा शव:फ्यूज बांधते समय करंट से संविदाकर्मी की मौत, रात भर धरने पर बैठे रहे ग्रामीण, परिजन को नौकरी और मुआवजा देने के आश्वासन के बाद नीचे उतारा शव

गंगापुर सिटी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोल पर लटका शव। - Dainik Bhaskar
पोल पर लटका शव।

बामनवास उपखंड क्षेत्र के शफीपुरा-झाडोदा फीडर पर सोमवार शाम को फ्यूज बांधते समय करंट से संविदाकर्मी शफीपुरा निवासी जनमेश मीना की मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा नेता पूर्व प्रधान राजेन्द्र के नेतृत्व में सैकड़ों ग्रामीण फीडर पर पहुंचे। जहां उन्होंने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसके बाद बामनवास थानाधिकारी बृजेश मीना मौके पर पहुंचे। थानाधिकारी ने समझाइश के प्रयास किए, लेकिन बात नहीं बनी। घटना की संवेदनशीलता को भांपते हुए एडीएम नवरतन कोली व एएसपी हिमांशु शर्मा भी मौके पर पहुंचे और निगम अधिकारियों के साथ समझाइश के प्रयास किए।

ग्रामीणों ने निगम की लापरवाही का हवाला देते हुए अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई और मृतक के परिजन को सरकारी नौकरी व 25 लाख रुपए मुआवजे की मांग को लेकरपोल से शव उतारने से इनकार कर दिया। इस दौरान करीब 8 घंटे तक संविदाकर्मी का शव पोल से लटका रहा। एसडीएम रतनलाल योगी ने ग्रामीणों से समझाइश की। परिजन को संविदा नौकरी, बीमा क्लेम व निगम द्वारा सहायता राशि के साथ हरसंभव मदद के आश्वासन पर मंगलवार सुबह करीब 4 बजे सहमति बन सकी। इसके बाद शव को उतारकर बामनवास सीएचसी की मोर्चरी में रखवाया गया। जहां पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। मृतक जनमेश के दो बेटे हैं एक की उम्र 20 साल है और दूसरे बेटे की उम्र 15 वर्ष है।

जानकारी के अनुसार शफीपुरा निवासी मृतक जनमेश मीना (45) बिजली निगम में संविदा पर लाइनमैन पद पर कार्यरत था। क्षेत्र में फ्यूज टूट जाने की सूचना के बाद वह पोल पर फ्यूज बांधने चढ़ा था। इस दौरान करंट आने से उसकी मौत हो गई। हादसे के बाद करीब 8 घंटे तक शव पोल पर ही लटका रहा। परिजनों की मांग थी कि कलेक्टर मौके पर आकर उनकी मांग पर कोई आश्वासन देवे। रातभर बामनवास उपखण्ड स्तर के प्रशासनिक अधिकारी समझाइश करते रहे। फिर सुबह 3 बजे बामनवास एसडीएम रतन लाल योगी ने उनकी मांग को सरकार के समक्ष भेजने का आश्वासन दिया, तब जाकर शव को पोल से नीचे उतारा गया। एसडीएम रतन लाल योगी ने बताया कि बिजली जनित हादसे की जांच के संबंध में आदेश दिए जाएंगे। समझाइश के दौरान गंगापुर सिटी एडीएम नवरतन कोली, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिमांशु शर्मा सहित बामनवास थानाधिकारी बृजेश मीना मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...