पितरों काे तर्पण:दीपावली पर गुर्जर समाज ने पितरों काे तर्पण दिया

हिन्डौनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

क्षेत्र में गुर्जर समाज के लोगों द्वारा दीपावली पर पितरों को तर्पण की अनूठी परम्परा निभाई गई।सदियों पुरानी इस परम्परा को निभाने लिए राजस्थान के विभिन्न हिस्सों मे रहने वाले गुर्जर पंवार गौत्र के लोग भी दीपावली पर यहाँ पहुंचते है। श्रीमहावीरजी के आसपास गंभीर नदी के तट पर 3 ग्राम पंचायतें में पंवार गौत्र के गुर्जर परिवार है। बडे बुजुर्ग से लेकर नौजवान तक गंभीर नदी पर इस आयोजन में शरीक होने पहुंचे। हांलाकि पितर तर्पण प्रत्येक परिवार का मुखिया ही करता है। हजारों की संख्या में गंभीर नदी पर पानी में एक - दूसरे का हाथ पकड हाथों में डाब लेकर एक लम्बी मानव श्रृंखला बनाते है।

प्रत्येक घर से एकत्रित किए दूध से पंडितों द्वारा बनाई खीर को मानव श्रृंखला के हाथों में प्रसाद के रूप मे रख पूर्वजों को पानी देने की रस्म निभाते है। पितर तर्पण के बाद समाज में दीपावली की खुशियां मनाई गई। देवनारायण मन्दिर कमेटी के अध्यक्ष हरिचरण पटैल ने बताया पितर तर्पण से पूर्व हुई पंचायत में क्षेत्र में गहराते जल स्तर के बारे में चर्चा की गई ।जिसमें निर्णय लिया गया की आगामी दिनों में देवनारायण मन्दिर पर पंचायत कर पांचना बांघ के पास बसे 12 गांव बैसला से पांचना का पानी नहरों मे खोलने को लेकर वार्ता के लिए कमेटी बनाई जावेगी।

खबरें और भी हैं...