भामाशाह योजना के भुगतान की मांग / निजी हॉस्पिटल एसोसिएशन ने उठाई भामाशाह योजना के भुगतान की मांग

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

हिन्डौन. प्राइवेट हॉस्पिटलों को भामाशाह योजना का भुगतान नहीं मिलने से एक और गंभीर बीमारी से ग्रसित मरीजों को इलाज नहीं मिल रहा है तो दूसरी ओर निजी हॉस्पिटल के कर्मचारियों के वेतन पर संकट आ गया है। हिंडौन के हॉस्पिटल संचालक राजगिरिश, डॉ. नवाब और वीपी मीना ने कलेक्टर और राज्यसरकार के आला अधिकारियों को पत्र भेजकर बकाया भुगतान की मांग की है। पत्र में बताया कि राजस्थान के सैंकड़ो प्राइवेट हॉस्पिटल्स के हज़ारों कर्मचारियों की नौकरी पर संकट हो गया है और इस संकट का कारण खुद राजस्थान सरकार है, जिसने बीते कई महीनों से भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना का पैसा प्राइवेट हॉस्पिटल्स को दिया ही नहीं है। प्रदेश के निजी चिकित्सालयों के करीब 200 करोड़ पर बकाया है, जिसके चलते इस कोविड-19 की महामारी में अपने कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं दे पा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार ने यदि अब भी बकाया भुगतान नहीं किया तो राजस्थान के प्राइवेट हॉस्पिटल्स में काम करने वाले कर्मचारियों की नौकरी पर संकट खड़ा हो जाएगा। निजी अस्पतालों संचालकों का कहना है कि उनके पास कई माह का भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत किए गए उपचार का भुगतान हुआ ही नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना