पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अंग्रेजी मीडियम स्कूल:10 स्कूल महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम में होंगे परिवर्तित, पहली से आठवीं तक के 4 हजार बच्चांे को मिलेगा लाभ

करौली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्कूलों में इसी शैक्षणिक सत्र से पढ़ाई शुरू होगी, प्राइवेट स्कूलों की तरह होगी पढ़ाई

सरकार ने जिले के दस माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों को महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम में परिवर्तित करने के आदेश जारी किए हैं, जिससे अब ऐसे अभिभावकों को इसका लाभ मिलेगा जो अपने बच्चों को अंग्रेजी माध्यम के निजी स्कूलों में पढ़ाना तो चाहते हैं लेकिन मोटी फीस होने से प्रवेश नहीं दिला पाते थे। इन स्कूलों में इसी सत्र से प्रवेश के साथ पढ़ाई शुरू हो जाएगी। इससे संबंधित स्कूलों के लगभग 4 हजार बच्चे लाभांवित होंगे।मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के अनुसरण में गत दिवस प्रदेश के 348 राजकीय विद्यालयों को महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) में परवर्तित करने की स्वीकृति जारी की है।

बदले गए इन विद्यालयों का संचालन इसी शैक्षणिक सत्र 2021-22 में किया जाएगा। इसके लिए सरकार द्वारा दिशा-निर्देश भी जारी किए जा चुके हैं। पदों की उपलब्धता नहीं होने की स्थिति में अतिरिक्त पदों के लिए अलग से विद्यालयवार प्रस्ताव भेजे जाएंगे। सरकार के आदेश पर जिले के दस राजकीय सकूलों को महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) में परिवर्तित किए जाएंगे। जिनमें सपोटरा विधानसभा के सपोटरा ब्लाॅक के राबामावि कुडगांव, राउमावि डाबरा, मंडरायल ब्लॉक के राउमावि कसेड, राबाउमावि मंडरायल, करौली ब्लॉक के राउमावि कोटा महोली और राउमावि कैलादेवी, टोडाभीम विधानसभा के नादौती ब्लॉक के राबामावि सोप व राबाउमावि नादौती, हिंडौन विधानसभा व हिंडौन ब्लॉक के राउमावि महुइब्राहिमपुर, व राउमावि श्रीमहावीरजी को शामिल किया गया है।

खबरें और भी हैं...