दुष्कर्मी गिरफ्तार:10वीं की छात्रा के अपहरण व दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 माह से आरोपी था फरार, गंगापुर सिटी में पकड़ा गया

10वीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग किशोरी का अपहरण और दुष्कर्म के आरोपी को महिला अपराध विशेष अनुसंधान प्रकोष्ठ ने गिरफ्तार किया है। आरोपी करीब 10 माह से फरार चल रहा था। महिला अपराध विशेष अनुसंधान प्रकोष्ठ के पुलिस अधिकारी मानसिंह ने बताया कि दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा के अपहरण और दुष्कर्म के आरोपी धीरज मीणा पुत्र हेमराज उम्र 19 वर्ष निवासी रामगढ़ मोराडा थाना गंगापुर को मुखबिर की सूचना पर मंगलवार दोपहर 2 बजे गंगापुर एसडीएम कोर्ट के सामने से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी से बचने के लिए आरोपी बार-बार ठिकाने बदल रहा था।

महिला अपराध विशेष अनुसंधान प्रकोष्ठ के हेड कांस्टेबल सुरेंद्र सिंह ने बताया कि हिण्डौन थाना क्षेत्र की दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा के पिता ने 27 फरवरी को उसकी नाबालिग पुत्री के अपहरण और दुष्कर्म की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। हिण्डौन सदर थाने में दर्ज कराई प्राथमिकी में बताया कि 26 फरवरी को उसकी पुत्री सुबह 9 बजे विद्यालय में पढ़ने के लिए घर से निकली थी। लेकिन देर शाम तक वह घर नहीं पहुंची। शाम 6:30 बजे उनके फोन पर एक अज्ञात नंबर से कॉल आई। कॉल में बताया कि तुम्हारी पुत्री गंगापुर बस स्टैंड पर खड़ी है, आकर ले जाओ। सूचना के बाद वह गंगापुर बस स्टैंड पहुंचे और पुत्री को लेकर अपने घर वापस आए।

पूछताछ में नाबालिग ने बताया कि जैसे ही वह घर से स्कूल जाने के लिए निकली तो बाइक सवार धीरज अपने एक दोस्त के साथ आया और उसे जबरदस्ती अपने साथ बिठा कर गंगापुर ले गया। इस दौरान उन्होंने नाबालिग किशोरी के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया तथा उसे हथियार के दम पर चुप रहने के लिए कहा। आरोपी किशोरी को गंगापुर अपने भाई के कमरे पर ले गया जहां उससे दुष्कर्म किया। परिजनों को बताने पर बदनाम करने एवं मारने की धमकी दी। आरोपी शाम 6:30 बजे किशोरी को गंगापुर बस स्टैंड पर छोड़कर फरार हो गया। आरोपी ने अपने ही फोन से किशोरी के परिजनों को उसके गंगापुर बस स्टैंड पर खड़े होने की सूचना दी और फरार हो गया। सूचना पर पहुंचे परिजन किशोरी को लेकर घर आए। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...