मौसम विभाग ने ओलावृष्टि की दी चेतावनी:बारिश रूकने के बाद सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठिठुरन, घने कोहरे से विजिबिलिटी हुई कम

करौली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश के बाद कोहरे छाने से धीमी गति से लाइट जलाकर निकलते वाहन चालक। - Dainik Bhaskar
बारिश के बाद कोहरे छाने से धीमी गति से लाइट जलाकर निकलते वाहन चालक।

पश्चिमी विक्षोभ के कारण हुई बरसात थमने के साथ ही करौली जिले भर में छाए घने कोहरे ने जनजीवन प्रभावित कर दिया। घने कोहरे और बादलों के कारण ठिठुरन भरी सर्दी का एहसास हुआ। गुरुवार को हुई बारिश के बाद किसानों के चेहरे खिले उठे है। कोहरे के कारण दिन में भी लाइट जला कर वाहन धीमी गति से निकलते नजर आए। जिला मुख्यालय पर सुबह से ही घना कोहरा नजर आया। कोहरे के कारण कई स्थानों पर विजिबिलिटी मात्र 10-12 मीटर रह गई। एनएच 11 बी पर वाहन चालक वाहनों की लाइट जलाकर धीमी गति से वाहन चलाते नजर आए। आसमान से टपक रही ओस के कारण क्षेत्रवासियों को कड़ाके की सर्दी का एहसास हुआ। ग्रामीण क्षेत्र में भी कोहरे और सर्दी के कारण जनजीवन प्रभावित हो रहा है।

गुरुवार को भी दिन भर बारिश का दौर चला। आसमान में घना कोहरा छाया रहा। जिसके चलते दिनचर्या पूरी तरह प्रभावित रही। हालांकि गुरुवार शाम बारिश का दौर थमते ही रात में घना कोहरा छा गया। जो शुक्रवार सुबह तक जारी रहा। आसमान में बादल छाए होने के कारण न्यूनतम तापमान 12 से 14 डिग्री और अधिकतम तापमान 21 डिग्री बना हुआ है। लेकिन सर्द हवा और बारिश के कारण लोगों को ठिठुरन का अहसास हो रहा है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को कई स्थानों पर ओलावृष्टि की भी चेतावनी दी है।