पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बकरीद की नमाज अदा:सोशल डिस्टेंस के साथ बकरीद की नमाज अदा, कोरोना संक्रमण से मुक्ति की दुआ

करौली7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आबाद रहने वाली मस्जिदें रहीं वीरान, महंगाई की मार पड़ी भारी, एक-दूसरे को दी मुबारकबाद
Advertisement
Advertisement

जिले में ईद- उल- जुहा का त्योहार शनिवार को हर्षोल्लास व उमंग के साथ मनाया गया।कोरोना काल में नमाजियों ने जिले सहित देश में कोरोना वायरस के बचाव, अमन चैन व शांति के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कोरोना काल में घर-घर ईद की नमाज अदा कर अल्लाह की इबादत में सजदा कर दुआ मांगी। इसके बाद रब को राजी करने के लिए (बकरा, बकरी, भैंस, पड़ा, भेड़ व दुंबा) की कुर्बानी दी गई और पूर्व में आबाद रहने वाली मस्जिदें इस बार कोरोना वायस के कारण ईद उल फितर की तरह भी शहर की मस्जिदें वीरान नजर आईं। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दी ईद की मुबारक्रबाद: मुस्लिम समाज के लोगों ने केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से कोरोना वायरस के बचाव के लिए जारी की गई गाइडलाइनों को पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ईद की मुबारकवाद एक दूसरे को गले मिलकर नहीं दी। मुस्लिम समाज के छोटे बच्चे, युवा व बुजुर्ग नए-नए परिधानों को पहनकर व इत्र लगाते हुए नजर आए। जिनसे इत्र की खुशबू महक रही थी। गौरतलब है कि बाजारों में ईद से पूर्व शुक्रवार को खरीदारी करने के लिए आए मुस्लिम समाज के लोगों ने ईद से एक दिन पूर्व एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी और बाजारों में खरीदारी की।महंगाई की मार बकरों पर पड़ी भारी: मुफ्ती मुहम्मद इल्यास मजाहिरी ने बताया कि ईदुलजुहा के लिए मुस्लिम भाइयों ने दो माह पहले से ही बकरे खरीद कर उनके खाने-पीने की व्यवस्था व देखभाल शुरू कर दी है। दिन व दिन बढ़ रही मंहगाई की मार बकरों पर भी पड़ रही है। पहले एक बकरा 7 से 8 हजार रुपए तक में उपलब्ध हो जाता था, लेकिन अब मंहगाई के चलते इनके दाम दुगुने हो गए है।भरतून/खेड़ला | ईद - उल- अजहा का त्योहार सादगी से मनाया गया। वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से मुस्लिम समुदाय के लोगों ने इस बार ईदगाह और मस्जिदों के बजाय घरों में ही ईद की नमाज पढ़ी। मस्जिदों या ईदगाह मे उन्हीं लोगों ने नमाज पढ़ी, जो वहीं पर रहते हैं। इस बार गले मिलकर ईद की मुबारकबाद देने के बजाय लोगों ने दूर से ही एक-दूसरे को बधाई दी।टोडाभीम ग्रामीण| कस्बे में मुस्लिम बंधुओं ने ईद का त्योहार घर-घर में हर्षोल्लास के साथ मनाया। सभी मुस्लिम बंधुओं ने कोविड-19 के चलते घर पर ही ईद की नमाज अदा की। हाजी मरगूब अहमद व गुफरान काजी ने बताया कि सरकार की ओर से कोविड-19 के चलते जारी की गई एडवाइजरी के अनुसार सभी मुस्लिम बंधुओं ने अपने परिवार के साथ घर पर ही नमाज अदा करके अल्लाह से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खात्मे के लिए दुआ मांगी है। कोरोना वायरस के चलते लोगों ने अपने प्रियजन व रिश्तेदारों को वीडियो कॉल के जरिए ही ईद की मुबारकबाद दी।बालघाट| कस्बे में मुस्लिम बंधुओं ने ईद का त्योहार घर - घर में हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस अवसर पर सभी मुस्लिम बंधुओं ने कोविड-19 के चलते घर - घर ईद की नमाज अदा की। वहीं लोगों ने अपने रिश्तेदारों को वीडियो कॉल के जरिए ईद की मुबारकबाद दी। छोटे बच्चों ने नए वस्त्र पहन कर घर पर ही ईद का जश्न मनाया है।कस्बा शहर| बकरीद पर मुस्लिम बंधुओं ने घर-घर नवाज अदा कर खुदा से अमनचैन की दुआएंअदा की। एक दूसरे को दुआ सलाम करके ईद की मुबारकबाद दी।कस्बे सहित आसपास के गांवों में ईद मनाई।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement