पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

3 करोड़ का गबन मामला:पंजाब नेशनल बैंक की दो शाखाओं में 3 करोड़ के गबन की एसओजी और क्राइम ब्रांच में भी हुई शिकायत

करौली16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के पंजाब नेशनल बैंक की कैलादेवी एवं कुडगांव बैंक शाखाओं में 3 करोड रुपए के गबन का मामला संबंधित थानों में मंगलवार देर शाम तक दर्ज हुआ है। जिस पर पुलिस ने बुधवार को जांच की कार्यवाही शुरु कर दी है।पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि कैलादेवी पंजाब नेशनल बैंक प्रबंधक मुनेश मीना ने कैलादेवी थाने में मुकदमा तत्कालीन बैंक प्रबंधक संतोष मीना बीसी एजेंट महेश चन्द मीना, बीसी एजेंट राधेश्याम गुर्जर आदि के खिलाफ धोखाधडी कर 122.88 लाख का गवन करने एवं कुडगांव शाखा प्रबंधक द्वारा कुडगांव थाने में ही संतोष मीना द्वितीय अधिकारी विनोद कुमार मीना एवं एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ धोखाधडी कर 177 लाख रुपए के गबन का मामला दर्ज कराया है।

जिसकी पुलिस ने जांच शुरु कर दी है। जांच के लिए अभी पुलिस अपने स्तर पर उपभोक्ताओं से भी पूछताछ करने में जुट गई है। वहीं पुलिस अधीक्षक ने बताया कि संबंधित बैंकों द्वारा एसओजी एवं क्राइम ब्रांच में भी तत्कालीन बैंक मैनेजर संतोष मीना एवं उसके सहयोगियों द्वारा धोखाधडी किए जाने की शिकायत पूर्व में की जांच चुकी है।ऐसे किया गबनबैंक अधिकारियों द्वारा की गई जांच में सामने आया कि संतोष मीणा महेश चंद मीणा राधेश्याम गुर्जर ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर कुल 70 फ्राडूलेट समव्यवहार किए। बिना चेक बाउचर लेटर ऑफ अथॉरिटी जिनमें अधिकतर में संतोष मीणा की यूजर आईडी का उपयोग किया गया। विभिन्न ग्राहकों को भी लोन पत्रावली ओं में पूर्व में हस्ताक्षरित खाली वाउचर का बगैर ग्राहकों की सूचना व सहमति के उपयोग करते हुए ब्रांच बीसी एजेंट महेश चंद मीणा राधेश्याम गुर्जर एवं अन्य के खातों में राशि आहरित की गई।

खबरें और भी हैं...