पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन करने की मांग:कांग्रेसियों ने रोज एक करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन करने की मांग की, ज्ञापन दिया

करौली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला कांग्रेसियों के प्रतिनिधि मंडल ने राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग को ज्ञापन देकर देश में हर दिन एक करोड वैक्सीनेशन सुनिश्चित कर हर नागरिक को युनिवर्सल मुफ्त वैक्सीनेशन कराने की मांग की है।जिला कांग्रेस कमेटी के निवर्तमान जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश मामू, नरेश गुर्जर आदि ने बताया कि कोरोना संक्रमण महामारी से बचाव के लिए एक मात्र वैक्सीनेशन ही सहारा है। लेकिन देश में मोदी सरकार द्वारा वैक्सीनेशन के लिए की गई रणनीति भारी भूलों के कारण एक खतरनाक कॉकटेल है।

उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार ने जान बूझकर एक डिजीटल डिवाइड पैदा किया जिससे वैक्सीनेशन की प्रक्रिया धीमी हो गई। उन्होंने बताया कि जहां अन्य देशों में मई 2020 से वैक्सीन खरीदने के ऑडर्र देने शुरू कर दिए वही मोदी सरकार ने भारत में इसे विफल कर दिया। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार ने पहला ऑर्डर जनवरी 2021 में दिया। जिसमें अब तक 140 करोड की जनता के लिए मात्र 39 करोड वेक्सीन का ही ऑर्डर दिया है। जिसमें ने 31 मई तक मात्र 21.31 करोड वैक्सीन ही लगाई गई हैं जिसमें से भी दोनों डोज केवल 4.45 करोड लोगों को लगी है जो देश की आबादी का 3.17 प्रतिशत है।

प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि इस विकराल महामारी के बीच देश के नागरिक कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं लेकिन मोदी सरकार वैक्सीन का निर्यात करने में व्यस्त है। उन्होंने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट की कोविड शील्ड की एक खुराक की कीमत मोदी सरकार के लिए 150 रुपए, राज्य सरकारों के लिए 300 रुपए व निजी अस्पतालों के लिए 600 रुपए है। इसलिए केन्द्र सरकार वैक्सीन खरीदे और राज्य व निजी अस्पतालाें के नि:शुल्क उपलब्ध कराए जिससे देश के हर नागरिक को नि:शुल्क वैक्सीन लग सके।प्रतिनिधि मंडल ने राष्ट्रपति से अपील की कि मोदी सरकार को एक दिन में एक करोड लोगों को वैक्सीन लगाने व युनिवर्सज मुफ्त वैक्सीनेशन का निर्देश दें। ज्ञापन देने वालोें में उद्यौसिंह एडवोकेट, योगेन्द्र मावई, भूपेंद्र भारद्वाज, कन्हैया लाल शर्मा, महिंद्र सूरोठिया,अनिल शर्मा मेडिकल, रामचरण खुरसटपुरा सहित कई कांग्रेसी पदाधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...