मांग:रीठोली में नव सृजित बूथ को निरस्त करनेकी मांग,‎ विधायक के नेतृत्व में कलेक्टर से मिले ग्रामीण‎

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला प्रशासन द्वारा अचानक श्रीमहावीरजी पंचायत समिति की ग्राम पंचायत टोडूपुरा के रीठौली गांव में मतदान केन्द्र बनाए जाने के विरोध में करौली विधायक लाखन सिंह मीणा के नेतृत्व में दर्जनों ग्रामीण कलेक्ट्रेट पहुंचे और विरोध प्रदर्शन कर जिला निर्वाचन अधिकारी को ज्ञापन दिया और तत्काल नव सृजित बूथ को निरस्त करने की मांग की। साथ ही नव सृजित बूथ को निरस्त नहीं होने पर मतदान का बहिष्कार की चेतावनी दी। वहीं दूसरी ओर ग्रामीण पंचायत राज मंत्री रमेश मीणा के आवास पर पहुंचकर भी ज्ञापन देकर बूथ निरस्त करने की मांग की। करौली विधायक लाखनसिंह मीना के नेतृत्व में ग्रामीणों ने जिला निर्वाचन अधिकारी को ज्ञापन देकर अवगत कराया कि पंचायत समिति श्रीमहावीरजी के वार्ड संख्या 10 की ग्राम पंचायत टोडूपुरा के ग्राम रीठौली में पंचायत मुख्यालय से हटकर इतिहास में पहली बार ग्राम स्तर पर बिना पूर्व सूचना के आनन.फानन में बूथ बनाया है, जो गलत है। उन्होंने बताया कि रीठोली गांव के ग्रामीण विगत लगभग 20 साल से अपने गांव को ग्राम पंचायत मुख्यालय बनवाने की मांग लेकर हर बार मतदान का बहिष्कार करते आ रहे हैं। अब भी इस नवसृजित बूथ का विरोध दर्ज करा चुके हैं। विधायक ने बताया कि बूथ बनाने के इस निर्णय के चलते भविष्य में आशंका है कि हर ग्राम स्तर पर अलग से बूथ निर्माण की मांग उठेगी जो पंचायतीराज नियमों के खिलाफ है।

खबरें और भी हैं...