एसडीएम को बताई समस्या:नादौती में पेयजल किल्लत, पानी का टैंकर खरीदकर प्यास बुझा रहे हैं लोग

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नादौती| एसडीएम डॉ. धीरज कुमारसिंह को पेयजल समस्या से अवगत कराते ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
नादौती| एसडीएम डॉ. धीरज कुमारसिंह को पेयजल समस्या से अवगत कराते ग्रामीण।
  • चंबल परियोजना से दो सप्ताह से सप्लाई बंद होने से गड़बड़ाई पेयजल व्यवस्था

नादौती में गत 15 दिन से पेयजल की हाय तोबा मची हुई है। चंबल सवाई माधोपुर नादौती पेयजल परियोजना से पेयजल सप्लाई बंद हुए दो सप्ताह हो गए हैं। वर्तमान में जलदाय विभाग द्वारा गुढ़ाचंद्रजी भूतल जलाशय से कभी 3 दिन में तो कभी 4 दिन में अपर्याप्त मात्रा में पेयजल सप्लाई किया जाता है। जिससे लोगों को पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। ग्रामीण ने पेयजल समस्या को लेकर एसडीएम डॉ. धीरज कुमार सिंह को बताया कि कस्बे में नियमित पेयजल सप्लाई नहीं किया जा रहा है।

जलदाय विभाग द्वारा तीन-चार दिन में अपर्याप्त मात्रा में पेयजल सप्लाई किया जाता है। लोग 500 से 700 रुपए में मोल पानी का टैंकर मंगाकर प्यास बुझा रहे हैं। गरीब लोग जो मोल पानी का टैंकर नहीं मंगा सकते हैं दिन-भर पेयजल की तलाश में भटकते रहते हैं। ग्रामीणों ने नियमित पेयजल सप्लाई शुरू करवाने की एसडीएम से मांग की। जलदाय विभाग द्वारा तीन-चार दिन में अपर्याप्त मात्रा में पेयजल सप्लाई किया जा रहा है।प्रदर्शन की दी चेतावनी ग्रामीणों ने एसडीएम को नादौती में नियमित पेयजल सप्लाई शुरू करवाने के लिए ज्ञापन सौंपा।

ग्रामीणों ने ज्ञापन में चेतावनी दी है कि शीघ्र कस्बे में नियमित पेयजल सप्लाई शुरू नहीं की गई तो ग्रामीण प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।नियमित सप्लाई के निर्देश दिएएसडीएम ने ग्रामीणों की समस्या को ध्यान से सुना। जलदाय विभाग के सहाय अभियंता को नियमित पेयजल सप्लाई के लिए निर्देशित किया। एडवोकेट विजय, सहकार भारती के प्रदेश सदस्य विजेंद्र जंगम, जगदीश, अजय, गौरव, सागर, रामनरेश, सुनील उपाध्याय, गोपाल सैन, इकराम, धीरेन्द्रसिंह आदि उपस्थित थे।

अनियमित बिजली कटौती से गहराया पेयजल संकट, कई मोहल्लों में नहीं पहुंच पा रहा पानी

भास्कर न्यूज | गुढ़ाचन्द्रजीविगत एक सप्ताह से गहराए बिजली आपूर्ति संकट के कारण कस्बे में पेयजल आपूर्ति गड़बड़ा गई। पेयजल आपूर्ति गड़बड़ाने से लोगों को पीने के पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। लोग ऊंचे दामों पर पानी के टैंकर खरीद कर अपनी प्यास बुझाने को मजबूर है। कस्बा निवासी योगेश कुमार महंत, विष्णु कुमार, महेश चंद, राधे गोविंद, बलराम, हेमू, गणेश, राम अवतार, गुड्डी, कविता, सोनम, सुमिता, लक्ष्मी, पार्वती आदि लोगों ने बताया कि कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में विगत एक सप्ताह से हो रही अनियमित बिजली आपूर्ति से कस्बे में पेयजल आपूर्ति गड़बड़ा गई। बिजली कटौती के कारण कस्बे में पेयजल आपूर्ति गड़बड़ाने से लोगों को पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। कस्बे में हेड पंपों पर पानी भरने के लिए सुबह 5 बजे से ही लोगों की लंबी कतारें लगने लगी है।दशहरा और दीपावली का त्यौहार नजदीक होने से घरों में चल रही साफ-सफाई के कारण पेयजल की आपूर्ति की मांग ज्यादा होने पर लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। बिजली कटौती के कारण उच्च जलाशय टंकी में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पहुंच पा रहा जिससे कस्बे में पेयजल आपूर्ति गड़बड़ा गई है। जलदाय विभाग द्वारा कस्बे के कई मोहल्लों में नियमित बानो की आपूर्ति की जा रही है वहीं कस्बे के झारंडा चौराहा, मुख्य बाजार, बस स्टैंड, माली मोहल्ला, पुलिस चौकी के पीछे कई मोहल्लों में पानी की आपूर्ति गड़बडा ने से लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। जलदाय विभाग के उच्च अधिकारियों के अनुसार अनियमित बिजली आपूर्ति से कस्बे की टंकियों में पर्याप्त पानी नहीं पहुंच पा रहा है जिससे कुछ मोहल्लों में पानी आपूर्ति में कमी हो रही है। बिजली आपूर्ति सुचारू होते ही कस्बे में नियमित पेयजल आपूर्ति कराई जाएगी।

खबरें और भी हैं...