मौसम विभाग की ओर से यलो अलर्ट जारी:ठंडी हवा और बारिश के चलते कड़ाके की ठंड, घना कोहरा छाने से विजिबिलिटी हुई कम

करौलीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश से बढ़ी ठंड के बाद कोहरे छाया। विजिबिलिटी हुई कम। - Dainik Bhaskar
बारिश से बढ़ी ठंड के बाद कोहरे छाया। विजिबिलिटी हुई कम।

करौली जिले में पश्चिमी विक्षोभ के चलते क्षेत्र में बारिश का दौर जारी है। बुधवार दोपहर बाद से रुक-रुक कर हो रही बारिश गुरुवार सुबह भी जारी रही। आसमान में घना कोहरा छा गया। जिसके चलते विजिबिलिटी कम हो गई और वाहन चालकों एवं राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वाहन हेड लाइट जलाकर धीमी गति से चलती नजर आए। करौली जिला मुख्यालय सहित कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। जिसके चलते पेयजल आपूर्ति सहित विभिन्न समस्याओं का भी सामना करना पड़ रहा है।

बारिश से जहां फसलों को फायदा होगा तो वहीं क्षेत्र के जल स्रोतों में भी पानी की आवक हुई है। लगातार बारिश और ठंडी हवाओं की वजह से लोगों को कड़ाके की सर्दी का एहसास हो रहा है। बारिश और ठंडी हवाओं से जनजीवन पूरी तरह प्रभावित हो गया। लोग बारिश और ठंड के चलते घरों में दुबकने को मजबूर है।

मौसम विभाग की ओर से क्षेत्र में यलो अलर्ट जारी किया गया है। मंगलवार रात से क्षेत्र के आसमान में बादल छाए हुए है और रुक-रुक कर बूंदाबांदी का दौर बुधवार दोपहर तक चला। बुधवार दोपहर मौसम से राहत मिली और कुछ देर के लिए धूप निकली। दोपहर बाद एक बार फिर बादल छा गए और रिमझिम बारिश का दौर शुरू हुआ जो लगातार जारी है। आसमान में बादल छाए होने के कारण तापमान में बढ़ोतरी हुई है। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से अधिक पहुंच गया, लेकिन ठंडी हवा और बारिश के चलते लोगों को कड़ाके की ठंड का एहसास हो रहा है। ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं। तो गर्म खाद्य पदार्थ, मूंगफली, गजक, रेवड़ी, मंगोड़ा, पकौड़ी की बिक्री में भी उछाल आया है। बारिश के चलते दुकानों पर लोगों को गर्म कपड़ों के साथ बरसाती रेनकोट, छाता खरीदते भी देखा गया। मौसम विभाग ने आगामी दो-तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है।