पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदाेलन:हिंडौन में रेलवे स्टेशन पर पहुंचे किसान, पर पुलिस को देख ट्रेनें नहीं रोक पाए

करौली12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर हिंडौन से निर्धारित समय पर निकली सभी ट्रेनें
  • सुरक्षा रेलवे स्टेशन पर तैनात रहे आरपीएफ व जीआरपी के जवान, स्टेशन अधीक्षक ने किसानों से की वार्ता

पटोंदानए कृषि कानूनों के विरोध में गुरुवार को हिंडौन में रेल रोको आंदोलन पूरी तरह असफल रहा। किसानों की ओर से एक दिन पूर्व गुरुवार को दोपहर 12 से 4 बजे तक रेल रोकने की घोषणा के बाद गुरुवार को हिंडौन और श्रीमहावीरजी रेल स्टेशन पर आरपीएफ व जीआरपी के जवान तैनात रहे। विभिन्न किसान संगठनों के पदाधिकारी रेल स्टेशन पर पहुंचे, जरुर लेकिन कोई भी टेन रोकने की हिम्मत नहीं कर पाया। इस दौरान स्टेशन अधीक्षक अशोक शर्मा ने किसान संगठनों के पदाधिकारी व कार्यकर्ताऔ से वार्ता की। हालांकि किसान संगठनों के नेताओं ने यात्रियों से चर्चा करते हुए किसानों की मांगों पर समर्थन मांगा। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर हिंडौन रेल स्टेशन से सभी टेन एवं मालगाड़ी अपने निर्धारित समय से होकर ही निकलीं और कोई व्यवधान नहीं आया। किसान नेताओं ने हालांकि टेनों को नहीं रोका, लेकिन यात्रियों से संवाद स्थापित किया। गौरतलब है कि देश का अन्नदाता, जिसेअपने खेत में होना चाहिए था, करीब तीन माह से दिल्ली की सीमाओं पर पड़ा है।

बिना व्यवधान के सही समय पर निकली सभी रेलगाड़ियां

किसान संगठन के राष्टीय अध्यक्ष राकेश टिकैत के नेतृत्व में चलाए जा रहे किसान आंदोलन के समर्थन में 18 फरवरी को देशव्यापी रेल रोकने का दोपहर 12 से 4 बजे तक आह्वान किया गया था। करौली जिले में हिंडौन और श्रीमहावीजी में ही रेलवे लाइन है। एक दिन पूर्व किसान संगठन के जिला अध्यक्ष अजय सिंह की ओर से भी क्षेत्र के किसानों से रेल रोको आंदोलन में अपनी भागीदारी निभाने की अपील करते हुए हिण्डौन में रेल रोकने का ऐलान किया था। इस ऐलान के बाद रेलवे आरपीएफ व जीआरपी के अलावा पुलिस के जवान सुरक्षा के लिए तैनात रहे। किसान संगठन के पदाधिकारी स्टेशन पर पहुंचे जरुर, लेकिन टेनें नहीं रोक पाए। कड़ी सुरक्षा के बीच टेनों को निकाला गया। अमृतसर से मुंबई जाने वाली स्वर्ण मंदिर एक्सप्रेस टेन को दोपहर 12 बजे बाद हिंडौन स्टेशन से निकाला गया। इसके अलावा जयपुर-बयाना, मुंबई-अमृतसर सहित अन्य टेनों को निकाला गया।मालगाड़ी टेनें भी इसी मार्ग से होकर निकली।

किसान संगठन के राष्टीय अध्यक्ष राकेश टिकैत के नेतृत्व में चलाए जा रहे किसान आंदोलन के समर्थन में 18 फरवरी को देशव्यापी रेल रोकने का दोपहर 12 से 4 बजे तक आह्वान किया गया था। करौली जिले में हिंडौन और श्रीमहावीजी में ही रेलवे लाइन है। एक दिन पूर्व किसान संगठन के जिला अध्यक्ष अजय सिंह की ओर से भी क्षेत्र के किसानों से रेल रोको आंदोलन में अपनी भागीदारी निभाने की अपील करते हुए हिण्डौन में रेल रोकने का ऐलान किया था। इस ऐलान के बाद रेलवे आरपीएफ व जीआरपी के अलावा पुलिस के जवान सुरक्षा के लिए तैनात रहे। किसान संगठन के पदाधिकारी स्टेशन पर पहुंचे जरुर, लेकिन टेनें नहीं रोक पाए। कड़ी सुरक्षा के बीच टेनों को निकाला गया। अमृतसर से मुंबई जाने वाली स्वर्ण मंदिर एक्सप्रेस टेन को दोपहर 12 बजे बाद हिंडौन स्टेशन से निकाला गया। इसके अलावा जयपुर-बयाना, मुंबई-अमृतसर सहित अन्य टेनों को निकाला गया।मालगाड़ी टेनें भी इसी मार्ग से होकर निकली।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें