आकस्मिक निधन:पूर्व मंत्री व एशियाई कबड्डी महासंघ के अध्यक्ष जनार्दन सिंह का निधन

करौली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान सरकार के पूर्व मंत्री व खेलों के भीष्म पितामह माने जाने वाले प्रदेश के कद्दावर नेता जनार्दन सिंह गहलोत (77) का बुधवार को हृदयाघात होने से आकस्मिक निधन हो गया। दरअसल, बुधवार को अचानक सीने में दर्द हुआ तो वे खुद ही गाडी में बैठकर उपचार के लिए ईसीएचएस हॉस्पिटल के लिए रवाना हुए, जहां पहुंचते ही उन्होंने दम तोड़ दिया। इससे राजनैतिक गलियारों में शोक छा गया। खुद सीएम अशोक गहलोत सहित कई बडी हस्तियों ने उनके निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त की है। बुधवार की सायं जयपुर में ही उनकी अंत्येष्टि की गई।अंतर्राष्ट्रीय कबड्डी फेडरेशन व राजस्थान ओलंपिक संघ के अध्यक्ष और भारतीय ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष गहलोत युवक कांग्रेस के अध्यक्ष के साथ करीब 20 वर्षों तक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री व उपाध्यक्ष भी रहे।

5 अक्टूबर 1944 को सूरजगढ(झुंझुनू) में जन्मे जनार्दन गहलोत यहां करौली से भी तीन बार वर्ष 1980, 1990 व 1998 में विधायक निर्वाचित हुए। 1972 में जयपुर की गांधीनगर विस सीट से पूर्व उपराष्ट्रपति व राजस्थान सीएम रह चुके भैरोंसिंह शेखावत को भी हराकर राजस्थान विधानसभा के लिए चुने गए। खेलों की राजनीति में गहलोत पिछले 30 वर्षों से अंतरराष्ट्रीय एवं एशियाई कबड्डी महासंघ के अध्यक्ष, भारतीय ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष के साथ-साथ राजस्थान ओलंपिक संघ के अध्यक्ष हैं। हालांकि, बीच में कांग्रेस का दामन छोड़कर भाजपा में भी शामिल हुए,मगर फिर से कांग्रेस में घर वापसी कर ली।

खबरें और भी हैं...