दुर्गाष्टमी:दुर्गाष्टमी पर घर-घर में हुई पूजा-अर्चना, मंदिरों में धार्मिक कार्यक्रम

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सपोटरा ग्रामीण| बापोती बीजासन माता की सजी भव्य झांकी। - Dainik Bhaskar
सपोटरा ग्रामीण| बापोती बीजासन माता की सजी भव्य झांकी।

शहर सहित आसपास के गांवों में बुधवार को दुर्गाष्टमी का पर्व मनाया गया। इस दौरान श्रद्धालुओं ने मां दुर्गा के दर्शन कर मनौतियां मांगी। वहीं शारदीय नवरात्रा शुरू होने से पूर्व मां भक्तों ने अपने बोए हुए ज्वारों को मां के चरणों में अर्पित कर अपना व्रत खोला और कन्या-लांगुराओं को भोजन कराकर आशीर्वाद लिया। दुर्गाष्टमी के अवसर पर श्रद्धालुओं ने मां की विशेष पूजा-अर्चना कर झांकी सजाई।

आरती के आयोजन में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। इस दौरान मां दुर्गा के जयकारों से माहौल धर्ममय हो गया। वहीं कोरोना वायरस के बचाव के लिए केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से जारी गाइड लाइनों का पालन किया गया। महिला मंडली की ओर से मां के भजनों की प्रस्तुतियों पर श्रद्धालुओं को नृत्य करते हुए भी देखा गया। मंदिरों में मां दुर्गा की फूल-बंगला व छप्पनभोग की झांकी भी सजाई गई।गुढ़ाचन्द्रजी| दुर्गा अष्टमी के अवसर पर बुधवार को कस्बे सहित आसपास के सभी गांवों में श्रद्धालुओं द्वारा घर-घर पर माता जी की पूजा अर्चना की गई। श्रद्धालुओं ने घर पर कन्या और लांगुरियाओं को भोजन कराया और दान दक्षिणा देकर आशीर्वाद लिया। कस्बे के घटवासन देवी मंदिर पर माता जी के पूजन और दर्शनों के लिए दिनभर श्रद्धालुओं की भीड़ लग रही।

श्रीमहावीरजी ग्रामीण| बुधवार को दुर्गाष्टमी पर्व मनाया गया। इस मौके पर घर-घर में मां दुर्गा की पूजा अर्चना कर कन्या भोजन कराया गया। नवरात्रा के मौके पर ग्रामीण क्षेत्रों में देवालयों व घर-घर में घट स्थापना कर दुर्गापाठ प्रारम्भ किया गया। दुर्गाष्टमी पर्व पर घर-घर में मां दुर्गा की पूजा-अर्चना की गई। शारदीय नवरात्रा पाठ करने वालों ने इस पर्व पर कन्या भोजन कराकर उनको शगुन के रुप में दक्षिणा भेंट कर उनके पैर पूज कर आशीर्वाद लिया। क्षेत्र के गांव रानोली, किरवाड़ा, शेखपुरा, महस्वा,भोंटवाड़ा, कारवाड़ी आदि गांव में दुर्गाष्टमी पर्व मनाया गया।

खबरें और भी हैं...