कोरोना के बीच परोपकार:लॉकडाउन बढ़ा तो समाजसेवी ने मदद का संकल्प भी बढ़ाया, प्रदेशभर में हो रही सराहना

करौली2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
समाजसेवी भुवनेंद्र भारद्वाज आर्थिक और खाद्य सामग्री की मदद के साथ लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए भी जागरुक कर रहे। - Dainik Bhaskar
समाजसेवी भुवनेंद्र भारद्वाज आर्थिक और खाद्य सामग्री की मदद के साथ लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए भी जागरुक कर रहे।

लॉकडाउन बढ़ा तो समाजसेवी शिक्षक भुवनेंद्र भारद्वाज ने अपना संकल्प भी आगे बढ़ा दिया कि हर दिन मदद राशि का चेक प्रशासन तक पहुंचाए बिना अन्न ग्रहण नहीं करेंगे। 14 अप्रैल तक 6 लाख रुपए से ज्यादा की रकम जमा हो गई। यह सिलसिला 21 अप्रैल तक चलेगा। भारद्वाज इसके बाद भी हालातों को देखकर संकल्प को आगे बढ़ाने का फैसला ले सकते हैं। करौली के जिला कलेक्टर मोहन लाल यादव भारद्वाज की कोशिशों की सराहना करते हुए जिले के सभी दानदाताओं, समाजसेवियों और संगठनों का आभार जताया है। पुलिस अधीक्षक अनिल बेनीवाल और उप जिला कलेक्टर देवेन्द्र सिंह परमार ने कहा है कि कोई गरीब-असहाय भूखा नहीं सोए, प्रशासन की इस कोशिश में समाजसेवियों का योगदान अहम है।

सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए सोशल मीडिया को बनाया जरिया
भारद्वाज ने 27 मार्च को संकल्प लिया था। सोशल मीडिया के जरिए लोगों से अपील की और मदद देने वाले आगे आकर खुद संपर्क करने लगे। भारद्वाज ने न्यूनतम 5100 रुपए देने के लिए प्रेरित किया लेकिन, कुछ लोगों ने 1 लाख रुपए तक की मदद दी। भारद्वाज नकद राशि और खाद्य सामग्री की मदद देने की अपील के साथ ही लोगों को सबसे जरूरी सोशल डिस्टेंसिंग और सतर्क रहने का संदेश भी दे रहे हैं।

पहले चरण का संकल्प पूरा होने के बाद भारद्वाज को अन्न ग्रहण करवाते हुए पुलिस अधीक्षक अनिल बेनीवाल।
पहले चरण का संकल्प पूरा होने के बाद भारद्वाज को अन्न ग्रहण करवाते हुए पुलिस अधीक्षक अनिल बेनीवाल।

प्रदेशभर में हो रही मुहिम की सराहना
भारद्वाज के संकल्प की चर्चा अब जिले में ही नहीं बल्कि प्रदेशभर में हो रही है। पीएचईडी के प्रमुख साशन सचिव राजेश यादव और राजस्थान रोडवेज के सीएमडी नवीन जैन ने इसे पुनीत कार्य बताया है। करौली जिले के पूर्व कलेक्टर मनोज शर्मा और अभिमन्यु कुमार ने इसे दूसरों के लिए भी प्रेरणादायी बताया है। आईएएस डॉ. समित शर्मा और चिड़ावा एसडीएम जगदीश प्रसाद गौड़, लाडनूं एसडीएम मुकेश चौधरी और केंद्र में सेवाएं दे रहे आईपीएस रामकृष्ण स्वर्णकार ने भी शुभकामनाएं दी हैं।

खबरें और भी हैं...