पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पड़ोसी की दरिंदगी:पैंसिल दिलाने के बहाने 6 साल की बच्ची को खंडहर में ले जाकर दुष्कर्म किया, फिर गला दबा कर मार डाला

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मानवता शर्मसार पुलिस ने 16 साल के आरोपी को पकड़ा, एसपी ने भरतपुर से डॉग स्क्वायड व एफएसएल टीम को बुलाया, मौके से जुटाए साक्ष्य

करौली जिले के हिंडौन तहसील के एक गांव में गुरुवार को एक 6 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म कर गला दबाकर हत्या कर देने के मामले में मानवता को शर्मसार करके रख दिया। जब घटना की जानकारी पुलिस को मिली तो पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और पुलिस अधीक्षक को घटना की जानकारी दी। घटना की गंभीरता पर घटना स्थल पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश चन्द ने भरतपुर से डॉग स्क्वायड टीम व एफएसएल टीम को बुलाया और खाकी ने अपना कर्तव्य निभाते हुए मात्र 2 घंटे में ही आरोपी को निरुद्ध कर लिया और बालिका के शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया।जानकारी के अनुसार हिंडौन के एक गांव में एक 6 वर्षीय मासूम बालिका को उसकी मां ने गुरुवार सुबह लगभग 9.30 बजे पड़ौस की एक परचून की दुकान पर मंजन लेने के लिए भेजा था।

इसके बाद वह बालिका वापस नहीं लौटी। बालिका के वापस नहीं लौटने पर परिजनों ने कुछ देर तक तो उसके लौटकर आने का इंतजार करते रहे लेकिन काफी देर तक जब बालिका वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने बालिका की तलाश शुरु कर दी। परिजनों ने आस पास के घरों व गांव में तलाश किया। दिनभर तलाश करने के बाद भी घर वालो को बालिका कहीं नहीं मिली लेकिन थोड़ी देर बाद ग्रामीणों ने परिजनों को गांव में ही एक पुराने खंडहर मकान में बालिका का शव पड़ा हुआ होने की सूचना दी तो परिजनों के होश उड़ गए।ग्रामीणों ने घटना की सूचना हिंडौन सदर थाना पुलिस एवं पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा को दी।

जिस पर मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश चंद्र, पुलिस उपाधीक्षक किशोरी लाल, उप जिला कलेक्टर सुरेश कुमार, हिंडौन सदर थानाधिकारी पुलिस जाप्ते के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की पूरी जानकारी ली और शव को हिंडौन उपजिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया और पोस्टमार्टम पूरा होने से पहले ही पुलिस ने दुष्कर्म कर हत्या के मामले में आरोपी को निरुद्ध कर लिया।

पुलिस ने 4 को पकड़ा, पूछताछ में दरिंदे का पता चला

घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने भरतपुर से डॉग स्क्वायड व एफएसएल टीम को बुलाया। दोनों टीमों ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाए। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने मामले की गहनता से जांच की और स्वयं ने ग्रामीणों को पूछताछ के लिए बुलाया। ग्रामीणों के आधार पर पुलिस ने चार लोगों को राउण्ड अप किया और 2 घंटे की पूछताछ के बाद 16 वर्षीय आरोपी को दुष्कर्म कर हत्या के मामले में निरुद्ध कर लिया। इसके बाद पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर उपजिला अस्पताल में मेडिकल बोर्ड द्वारा शव को पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया है।

पैंसिल दिलाने के बहाने बहला फूसला कर बालिका को ले गया था खंडहर में : पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि आरोपी बालिका के गांव में ही पड़ोस का रहने वाला हैै और वह बालिका को पहले से जानता था। वह बालिका को बहला फुसलाकर पैंसिल दिलाने के बहाने खंडहर में ले गया और बालिका के साथ दुष्कर्म कर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

पूरा गांव स्तब्ध : एक 6 वर्षीय बालिका के साथ बदमाश द्वारा घर के पास एक खंडहर मकान में ले जाकर दुष्कर्म कर हत्या करने की घटना से गांव को शर्मसार कर दिया है। वहीं इस घटना को लेकर समूचे गांव में हड़कंप मच गया। घटनास्थल पर मौजूद ग्रामीणों ने बताया कि इस घटना ने गांव को पूरी तरह शर्मसार कर दिया है ऐसे दुसहासियों को कठोर से कठोर सजा मिलना आवश्यक है।

खबरें और भी हैं...