प्रशासन गांवों के संग अभियान:बाजना कला शिविर में आवासीय भवनों के पट्टे, भूमि रूपांतरण, जमाबंदी समस्याओं का मौके पर निस्तारण

करौली18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिंंडौनसिटी| बाजना कला में एसडीएम अनूप सिंह ने सहायता के चेक दिए। - Dainik Bhaskar
हिंंडौनसिटी| बाजना कला में एसडीएम अनूप सिंह ने सहायता के चेक दिए।
  • ग्रामीणों ने सड़क व पानी की समस्याओं को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

ग्रामीण उपखण्ड की ग्राम पंचायत बाजना कला में बुधवार को आयोजित प्रशासन गांवों के संग शिविर का जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने औचक निरीक्षण कर सभी अधिकारी और कर्मचारियों को पूरी जिम्मेदारी के साथ लोगों की समस्याओं का मौके पर ही निपटारा करने एवं सरकारी योजनाओं से लाभान्वित करने के निर्देश दिये। इस दौरान ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर को विभिन्न समस्याओं को लेकर ज्ञापन भी सौंपा। उल्लेखनीय है कि गत 2 अक्टूबर से प्रदेश भर में शुरू हुए प्रशासन गांवों के संग अभियानों के चलते बुधवार को उपखण्ड की ग्राम पंचायत में शिविर आयोजित हुआ।

जिसमें सभी 22विभागों के अधिकारी और प्रतिनिधि आमजन की समस्याओं को सुनने और विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए उपस्थित रहे। शिविर के दौरान जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने औचक निरीक्षण किया।इस दौरान उन्होंने शिविर प्रभारी एसडीएम अनूप सिंह से शिविर के बारे जानकारी ली।इस अवसर पर शिविर मे मौजूद अधिकारी और कर्मचारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की ओर से आमजन की समस्याओं का गांव-गांव पहुंचकर शिविर लगाकर समाधान करने एवं विभिन्न योजनाओं से जरूरतमंदों को लाभान्वित करने के लिए शिविर लगाये जा रहे है। उन्होंने कहा कि इन शिविरों के उद्देश्य तभी पूरा हो सकेगे,जब सभी कर्मचारी और अधिकारी पूरी जिम्मेदारी के साथ शिविर में उपस्थित होकर लोगों की बात सुनेंगे। इसलिए सभी को पूरी सतर्कता के साथ और सक्रियता के साथ काम करना है। जिससे आमजन लाभान्वित हो सके। साथ ही उन्होंने आमजन से भी शिविरों का लाभ उठाने की भी अपील की।

इस दौरान ग्रामीण धारा जाट, वीरेंद्र सोडवाल, धीरज, विनोद, प्रकाश, भगवानसिंह, चिरंजी, मंगल, रामरूप, हरिलाल, शैलेन्द्र, लक्ष्मण, गंभीर सिंह व गांव के सैकडों लोगों ने जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग को एक ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया कि हिण्डौन स्थित बाजना फाटक से ग्राम पंचायत मुख्यालय तक सडक की हालत बहुत जर्जर है। जिसमें बेरखेडा, कसाने का नंगला, विजयपुरा, कलसाडा सहित लगभग चालीस गांवों के लोगों का आवागमन रहता है। सडक की हालत जर्जर होने से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।उन्होंने जिला कलेक्टर से इस सडक के पुर्ननिर्माण की मांग की है। इसी दौरान लोगों ने ग्रामीणों के सामने आ रहे पेयजल संकट से भी अवगत कराते हुए सरकारी नलकूप लगवाने की भी मांग की। जिस पर जिला कलेक्टर ने इन समस्याओं का प्रमुखता से समाधान करवाने के निर्देश दिये।

शिविर प्रभारी एसडीएम अनूप सिंह ने बताया किया कि शिविर के दौरान लोगों से आवासीय भवनों के पट्टे, भूमि रूपान्तरण, स्वयं सहायता समूह, जमाबंदी, नकल, नामांतरण आदि राजस्व कार्यों से संबंधित आवेदन स्वीकार किये गये। जिनका मौके पर ही निपटारा किया गया। शिविर मे विकास अधिकारी राजेंद्र गुप्ता. नायब तहसीलदार हमेंंद्र मीना. बीसीएमओ डा.श्याम सिघंल. एबीईओ दयालसिंह,प्रर्वतन निरीक्षक सुनीता मीना आदि मौजूद रहे।इसके अलावा लोगों की विद्युत विभाग, चिकित्सा विभाग .जलदाय विभाग. महिला एवं बाल विकास विभाग. पंचायती राज विभाग, राजस्व विभाग,समाज कल्याण विभाग. सहकारिता विभाग आदि से संबंधित समस्याओं का मौके पर निस्तारण किया।

खबरें और भी हैं...