• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Karauli
  • Police Disclosed The Theft Of 12 Lakhs After 8 Days, Tau's Boy Conspired On Being In Debt, After Collecting Jewelry And Cash, Threw The Rest Of The Goods In The Well

रिश्तेदारों ने ही घर में की थी चोरी, 2 गिरफ्तार:12 लाख की चोरी का पुलिस ने 8 दिन बाद किया खुलासा, कर्जा होने पर ताऊ के लड़के ने साजिश रची, गहने-नकदी समेटकर बाकी सामान कुएं में फेंका

करौली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में दोनों आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में दोनों आरोपी।

कोतवाली पुलिस ने सप्ताहभर पूर्व चटीकना मोहल्ले में हुई 12 लाख रुपए की चोरी का बुधवार को खुलासा किया है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामले में फरार साथियों की तलाश में पुलिस टीमें दबिश दे रही है। वहीं, आरोपियों से पूछताछ कर माल बरामदगी के प्रयास कर रही है। गिरफ्तार दोनों आरोपी पीड़ित परिवार के ही रिश्तेदार है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 3 दिन के रिमाण्ड पर लिया है।

थानाधिकारी रामेश्वर दयाल ने बताया कि परशुराम खिडकिया बाहर निवासी सोहन लाल माली ने 21 सितंबर को चोरी का मामला दर्ज कराया था। रिपोर्ट में उसने घर में घुसकर 10 किलो चांदी, सोने के गहने और नकदी सहित करीब 12 लाख रुपये की चोरी होना बताया था। शहर चौकी प्रभारी बृजराज शर्मा ने मामले में तत्परता दिखाते हुए जांच पड़ताल की और दो लोगों को चिन्हित किया। पुलिस ने चोरी के मामले में आरोपी धर्मेंद्र माली उर्फ धर्मा पुत्र बृज लाल निवासी परसराम खिड़कियां करौली और तुलसीराम पुत्र राधेश्याम निवासी ट्रक यूनियन के पास गंगापुर सिटी को बुधवार गिरफ्तार किया है। आरोपी धर्मेंद्र माली पीड़ित सोहनलाल के ताऊ का लड़का है, जबकि तुलसीराम रिश्ते में धर्मेंद्र का जीजा लगता है।

पूछताछ में धर्मेंद्र उर्फ धर्मा ने बताया कि उसके ऊपर कर्जा हो गया था। रुपए की आवश्यक के लिए वह गंगापुर तुलसीराम के पास गया था। जहां उसकी मुलाकात मुफीद व अन्य से हुई। सभी ने साथ मिलकर घटना को अंजाम देने का प्लान बनाया। उसके बाद 20 सितंबर की शाम को धर्मेंद्र ने तुलसीराम को फोन कर उन्हें करौली बुला लिया।

20 सितंबर शाम 5.30 बजे बाद सभी करौली पहुंच गए। धर्मेंद्र रात में घर की छत पर बैठकर पल-पल की खबर अन्य साथियों को देता रहा। घरवालों के सोने के बाद रात करीब 2 बजे चोरी को अंजाम दिया। घटना के बाद धर्मेंद्र घर पर ही रुक गया। जबकि अन्य वहां से फरार हो गए। घटना के बाद आरोपियों ने खाली बक्सा कुड़गांव क्षेत्र स्थित एक कुएं में डालने की जानकारी दी है। कागजातों को गंगापुर के पास एक अन्य कुएं में फेंकने के बारे में बताया है। पुलिस आरोपियों की निशानदेही पर माल बरामदगी के प्रयास कर रही है।

खबरें और भी हैं...