पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

यह सख्ती जरूरी:अनावश्यक घूमने वालों के खिलाफ पुलिस और अधिक होगी सख्त

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5 दिन में 600 वाहन किए जब्त

कोरोना की दूसरी लहर जहां एक और अपना कहर बरपा रही है वहीं कुछ लोग अपने मनोरंजन एवं हल्के फायदे के लिए कोरोना संक्रमण को बढ़ावा देने से बाज नहीं आ रहे है। जिसके चलते अब पुलिस ने अनावश्यक घूमने वालों के खिलाफ सख्ती करना शुरु कर दिया है तो शुक्रवार से जिले में कोरोना की गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित कराने के लिए पुलिस ने और सख्ती करने की तैयारी शुरु कर दी है। इसके चलते अगर पुलिसकर्मी या होमगार्ड की भी लापरवाही पाई जाएगी तो उसके खिलाफ भी पुलिस द्वारा सख्त कार्यवाही की जाएगी।

भास्कर संवाददाता से विशेष बातचीत में पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि विकट परिस्थिति एवं विकट समय है, लोग धैर्य के साथ काम ले। प्रदेशभर में कोरोना पैर पसार रहा है। जागरुक और जिम्मेदार नागरिक के तौर पर जिम्मेदारी से कोरोना गाइड लाईन की पालना स्वप्रेरित होकर करे। स्वयं जागरुक रहेंगे तो स्वयं एवं परिजनों के स्वास्थ्य एवं जीवन का ध्यान रख पाऐंगे। स्वप्रेरित होकर हम महामारी को हरा पाऐगे। पुलिस विभाग सड़कों पर तैनात होकर कठिन समय में भी डटा हुआ है। पुलिस के भी हिंडौन कोतवाल, करौली यातायात प्रभारी सहित 32 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके है फिर भी आमजन की सुविधा एवं सेवा के लिए कटीबद्ध है। ऐसे में जनता का सहयोग अतिआवश्यक है।

वहीं एसपी कच्छावा ने कहा कि पुलिस की सख्ती के बाद भी कुछ लोग वैक्सीन के नाम पर कुछ आवश्यक वस्तु के नाम पर घरों के बाहर निकल कर पुलिस को धोखा नहीं दे रहे बल्कि स्वयं को और अपने परिजनों को धोखा दे रहे है। हालांकि पुलिस द्वारा शुक्रवार से ऐसे लोगों के खिलाफ और सख्त रवैया अपनाया जाएगा और कार्यवाही की जाएगी।पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि अगर कोई व्यक्ति अनावश्यक घूमते पाया जाता है तो उसे पुलिस द्वारा क्वारेंटाइन सेंटर भेज दिया जाएगा और जब तक उसकी रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आती है तब तक उसे क्वारेंटाइन सेंटर में रहना होगा तो वाहन को कम से कम 14 दिन तक जब्त किया जाएगा और 14 दिन बाद कोर्ट से चालान की राशि जमा कराने पर ही वाहन को छोड़ा जा सकेगा।

खबरें और भी हैं...