कृषि कल्याण अभियान:ग्राम सेवा सहकारी समिति पर किसानों के लिए आए ट्रैक्टरों का नहीं मिल रहा लाभ

करौली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिंघनिया ग्राम पंचायत शेखपुरा स्थित ग्राम सेवा सहकारी समिति कार्यालय पर भारत सरकार के कृषि कल्याण अभियान तृतीय के अंतर्गत कस्टम हायरिंग योजना के तहत किसानों को कृषि कार्यों में सहयोग प्रदान करने के उद्देश्य से उपलब्ध ट्रैक्टर का ग्राम सेवा सहकारी समिति के सदस्यों एवं अन्य ग्रामीणों को योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। इस संबंध में ग्रामीण निरंजन, धीरसिंह मीना सहित दर्जनों से अधिक लोगों ने बताया की शेखपुरा ग्राम सेवा सहकारी समिति पर विभाग के द्वारा कृषि कार्य में सहयोग हेतु आने वाले ट्रैक्टर की उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

नाही किसानों के लिए आए ट्रैक्टर का लाभ ही मिल रहा है, ग्रामीणों ने बताया कि व्यवस्थापक समिति के ट्रैक्टर को अपने घर पर निजी उपयोग में ले रहा है। ऐसे में ग्राम सेवा सहकारी समिति पर कार्यरत व्यवस्थापक के कार्य प्रणाली पर सवाल उठने के साथ ही विभाग के द्वारा उपलब्ध करवाए गए ट्रैक्टर की सेवाओं से भी गरीब किसानों को वंचित किया जा रहा है।इस संबंध में विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार सहकारी समितियां करौली अवतार मीना से जानकारी मांगी गई तो उन्होंने गैर जिम्मेदाराना जवाब देते हुए कहा की ग्राम सेवा सहकारी समिति पर ट्रैक्टर को रखने के लिए कोई जगह नहीं है ट्रैक्टर टोडाभीम के पास व्यवस्थापक के गांव कानेटी मे जीएसएस 35 किलोमीटर रखा हुआ है। साथ ही उन्होंने बताया कि जिन किसानों को कृषि कार्य संबंधित कोई भी काम करवाना है।

खबरें और भी हैं...