• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Karauli
  • Said Atrocities On Women Are Increasing In The State, Criminals Are Becoming Unbridled, Warning Of Violent Agitation In The Case Of Murder Of Married For Dowry In Nadauti

पूर्व विधायक सुरेश मीणा का सरकार पर हमला:बोले- प्रदेश में महिलओं पर बढ़ रहे अत्याचार, अपराधी हो रहे बेलगाम, नादौती में दहेज के लिए विवाहित की हत्या मामले में उग्र आंदोलन की दी चेतावनी

करौली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों के साथ पूर्व विधायक सुरेश मीणा विरोध करते हुए। - Dainik Bhaskar
ग्रामीणों के साथ पूर्व विधायक सुरेश मीणा विरोध करते हुए।

करौली जिले में नादौती के सोप गांव में दहेज के लिए विवाहिता की जलाकर हत्या के मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के समर्थन में अब पूर्व विधायक सुरेश मीणा भी कूद गए हैं। करौली के पूर्व विधायक सुरेश मीणा ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। पूर्व विधायक ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय में अपराधी बेलगाम है। पुलिस-प्रशासन की व्यवस्था पूरी तरह पस्त है। जिसके चलते अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और महिलाओं पर अत्याचारों में बढ़ोतरी हुई है।

यहीं कारण है कि महिलाओं से बलात्कार, मारपीट, दहेज प्रताड़ना जैसे अपराध सामने आ रहे हैं। इसी का उदाहरण है कि नादौती तहसील के सोप गांव में 5 सितंबर को एक विवाहिता को दहेज के लिए पेट्रोल डाल के जला कर मार दिया। मामले में पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की। बुधवार को पूर्व विधायक सुरेश मीणा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया। साथ ही कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग एवं एसपी मृदुल कच्छावा को ज्ञापन सौंपकर आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है। 5 दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की भी चेतावनी दी है। इस दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

गौरतलब है कि सपोटरा के बालोती गांव निवासी बुद्ध राम मीणा की बेटी रीना की 25 नवंबर 2020 को नादौती के सोप गांव निवासी विष्णु पुत्र गज्जू राम के साथ शादी हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ससुराल पक्ष रीना को दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। 5 सितंबर को गांव में विवाहिता रीना की मौत हो गई। जिसमें विवाहिता के पीहर पक्ष ने ससुराल जनों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने एवं पेट्रोल डाल के आग लगा कर हत्या करने की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। लेकिन कार्रवाई नहीं करने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

खबरें और भी हैं...