पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रॉयल्टी ठेके पर अवैध वसूली का मामला:स्टोन से भरी टैक्टर ट्रॉली व अन्य वाहन जब्त, आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज

करौली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पत्थर व्यापारी एवं वाहन चालक इस टोकन को सलेमपुर नाके पर ठेकेदार प्रतिनिधि द्वारा अवैध वसूली कर फर्जी  बताया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
पत्थर व्यापारी एवं वाहन चालक इस टोकन को सलेमपुर नाके पर ठेकेदार प्रतिनिधि द्वारा अवैध वसूली कर फर्जी बताया जा रहा है।
  • विरोध करने वाले 11 वाहन चालकों के पास नहीं मिले दस्तावेज
  • वाहन चालकों सहित रॉयल्टी ठेका फर्म के खिलाफ खनिज अभियंता की ओर से दर्ज कराया केस

कुडगांव. करौली-सवाईमाधोपुर जिले के सलेमपुर के पास स्वीकृत रॉयल्टी नाके पर वाहन चालकों से अवैध वसूली के मामले में रविवार को नया मोड़ आ गया। एक दिन पूर्व शनिवार को पत्थर व्यवसाय से जुड़े मालिकों व वाहन चालकों की ओर से खनिज ठेकेदार पर फर्जी टोकन से अवैध वसूली किए जाने को लेकर सलेमपुर नाके पर विरोध प्रदर्शन किया था।

खनिज विभाग के अधिकारी सहित पूर्व गंगापुर सिटी ट्रक यूनियन अध्यक्ष मानसिंह मीणा, भाजपा जिलाध्यक्ष बृजलाल डिकोलिया भी मौके पर पहुंच गए थे। खनिज विभाग की टीम ने मौके पर वाहन चालकों के वाहनों में भरी स्टोन आदि की जांच की तो निर्गमन के लिए कोई वैध दस्तावेज नहीं मिले।

वाहन चालकों ने ठेकेदार की ओर से दी गई लोडिंग स्लिप दिखाई। जिसे विभाग की ओर से फर्जी बताया गया। जिस पर 11 वाहनों को जब्त कर लिया गया। इस मामले में मुख्य खनिज अभियंता करौली पुष्पेंद्र मीणा के निर्देश पर कुडगांव पुलिस थाने में 11 वाहनों सहित फर्जी रसीद जारी करने के मामले में रॉयल्टी ठेका फर्म के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

वहीं दूसरी ओर रॉयल्टी ठेका फर्म की ओर से भी शनिवार को क्रेशर मालिक सहित आठ जनों के खिलाफ मारपीट किए जाने व कागज चोरी करने का मामला दर्ज कराया​​​​​​ थानाप्रभारी ओमेन्द्र सिंह ने बताया कि सहायक खनिज अधिकारी अमित शर्मा की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में उल्लेख किया गया कि 29 मई को सलेमपुर के पास अवैध खनन निर्गमन की चैकिंग की गई।

जिसमें 11 वाहन अवैध निर्गमन करते पाए गए। खनिज से संबंधित वैध दस्तावेज नहीं पाए गए। कुछ वाहन चालकों की ओर से वाहन में भरे खनिज की लोडिंग स्लिप दिखाई गई। बताया गया कि ये स्लिप रॉयल्टी नाके पर चैक करके दी गई है। लोडिंग स्लिप फर्जी बताई गई है। इस संबंध में प्रकरण दर्ज कर जांच जारी है।

एक दिन पहले वाहन चालकों ने किया था प्रदर्शन

पत्थरों से भरे वाहनों की निकासी पर ली जाने वाली रॉयल्टी राशि में ठेकेदार की ओर से मनमानी किए जाने का आरोप लगाते हुए वाहन चालकों की ओर से एक दिन पहले प्रदर्शन किया गया था। बताया था कि करौली-सवाईमाधोपुर जिले का सलेमपुर के पास स्वीकृत रॉयल्टी ठेके पर तैनात कर्मचारी वाहन चालकों से अवैध वसूली कर रहे हैं।

खनिज विभाग के नियमों को धता बताते हुए फर्जी टोकन व बिना रसीद ही अवैध रुप से ज्यादा राशि की वसूली की जा रही है। इस कारण पत्थर व्यवसाय से जुड़े माइंस संचालक व वाहन चालकों में नाराजगी बनी हुई हैं। वाहन चालक फरीद खान, शाहिन, मानसिंह मीना, अमृत चौधरी आदि ने प्रदर्शन के दौरान बताया कि करौली-सवाईमाधोपुर जिले का रॉयल्टी ठेका दीक्षा कंस्ट्रेक्शन एंड सप्लायर्स के नाम से स्वीकृत हुआ। जिसमें 30-80 प्रति टन कच्चे माल पर लेने का अधिकार है। वर्तमान में इनका रॉयल्टी कलेक्शन फर्जी टोकन के द्वारा बिना ईआरआरसीसी की रसीद के अवैध वसूली की जा रही है।

रॉयल्टी ठेका कंपनी ने दस्तावेज चोरी का केस दर्ज कराया

खनिज विभाग द्वारा अधिकृत रॉयल्टी ठेका कंपनी दीक्षा कंस्ट्रक्शन टेंट सप्लायर्स के प्रतिनिधि देवेंद्र पुत्र निंभा जाट निवासी सिनसिनी भरतपुर की ओर से थाने पर विपिन क्रेशर मालिक शेखर सुलेमान लुकमान सहित 8 लोगों के विरुद्ध सलेमपुर नाका कर्मचारियों के साथ गाली गलौज एवं आरसीसी बुक सहित अन्य दस्तावेज चुराने का मामला थाने पर दर्ज करवाया गया है।

दूसरी ओर इस मामले में दीक्षा कंस्ट्रक्शन कंपनी के मालिक कोतवाल सिंह ने बताया कि सभी क्रेशर संचालकों से नियम अनुसार निर्धारित रॉयल्टी वसूल की जा रही है जबकि 2-3 क्रेशर संचालक रॉयल्टी नहीं देकर अवैध खनन कर रहे हैं जिसकी शिकायत करने पर इस तरह का प्रदर्शन किया जा रहा है।

सलेमपुर नाके पर फैसला आने तक रहेगा धरना प्रदर्शन

पूर्व गंगापुर सिटी ट्रक यूनियन अध्यक्ष मानसिंह मीणा एवं पत्थर व्यापारी के साथ सैकड़ों वाहन चालकों ने बताया कि विभाग की ओर से थाने पर वाहन चालक पत्थर व्यवसायी के साथ फर्जी टोकन को लेकर दर्ज कराए गए संपूर्ण मामले का फैसला आने तक उनकी ओर से सलेमपुर नाके के पास धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।

मामले की जांच के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी

मुख्य खनिज अभियंता करौली ने बताया कि अवैध पत्थर परिवहन निर्गमन के साथ बिना दस्तावेजों के वाहनो को जब्त की कार्रवाई के साथ सहित फर्जी रसीद जारी करने के मामले में रॉयल्टी ठेका फर्म के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। संपूर्ण मामले की जांच के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।
-पुष्पेंद्र मीना, खनिज अभियंता करौली

खबरें और भी हैं...