पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चोरी-मुकुट और नकदी चुरा ले गए बदमाश:सीतारामजी मंदिर से राम-सीता की मूर्ति का मुकुट और नकदी चुरा ले गए बदमाश

करौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले हुई चोरियों का भी नहीं हो सका खुलासा, सेन समाज के लोगों में आक्रोश

कुड़गांव कस्बे के बाजार में सेन समाज के सीताराम मंदिर से सोमवार रात भगवान राम और सीताजी की मूर्ति से चांदी का मुकुट और नकदी चोरी हो गई। इस घटना से सेन समाज के लोगों में आक्रोश है। समाज के लोगों ने चोरी का मामला दर्ज करा कर शीघ्र आरोपियों की गिरफ्तारी कर चोरी हुए मुकुट और नकदी बरामद करने की मांग की है।सेन समाज अध्यक्ष राधेश्याम सेन एवं मंदिर के पुजारी विष्णु शर्मा ने प्राथमिकी दर्ज कराकर बताया कि सोमवार शाम 7 बजे पुजारी विष्णु शर्मा पूजा अर्चना कर भगवान की शयन आरती कर मंदिर के गेट पर ताला लगा कर अपने घर सोने चला गया था। मंगलवार सुबह 5 बजे मंदिर पर पूजा करने पहुंचा तो मंदिर के गेट का ताला टूटा था और गेट खुला मिला। अंदर कपड़े एवं अन्य सामान बिखरा हुआ था। पुजारी ने सेन समाज के लोगों को सूचना कर मौके पर बुलाया। लोगों ने देखा तो सीता और राम मूर्ति के दो चांदी के मुकुट, नकदी एवं अन्य सामान चोरी होना पाया। समाज के पदाधिकारी एवं मंदिर के पुजारी विष्णु शर्मा ने बताया कि मंदिर से सीता और भगवान श्रीराम की मूर्तियों के चांदी के दोनों मुकुट जिनकी कीमत लगभग 10 हजार रुपए थी, मंदिर के दानपात्र में रखी 400 रुपए की नकद, दो तांबे के पूजा करने के लोटे सहित अन्य सामान चोरी हो गया। सेन समाज के पंच पटेलों ने कहा- चोरों को पुलिस जल्द गिरफ्तार करेचोरी की घटना के बाद सेन समाज के लोग प्राथमिकी दर्ज करवाने थाने पर पहुंचे और थानाधिकारी को चोरी की घटना से अवगत करवाने के बाद ग्रामीणों ने बताया कि इससे पूर्व भी कस्बे के कई मंदिरों में मूर्तियां चोरी हो चुकी हैं लेकिन अभी तक पुलिस किसी भी मामले में सफलता हासिल नहीं कर पाई, इसलिए चोरों ने कस्बे के मंदिरों में मूर्ति, नकदी एवं अन्य सामान चोरी की वारदातें बढ़ रही हैं। मंदिर में चोरी की घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार करे। समाज के लोगों ने बताया कि मंदिर में समाज की ओर से छत्र चढ़ाए गए थे यह उनके आस्था के प्रतीक थे।

2006 में चोरी हुई भगवान श्रीराम कीनीलम की मूर्ति नहीं हुई बरामदकस्बे में थाने के समीप भगवान राम का मंदिर है, जहां 10 दिवसीय भव्य मेले का आयोजन होता था। सैकड़ों गांवों के श्रद्धालु भाग लेते थे। ऐसा कहा जाता है कि श्रीराम की मूर्ति यहां स्वयं प्रकट हुई थी और शयन मुद्रा में थी लेकिन वर्ष 2006 में मंदिर में स्थापित नीलम से बनी श्रीराम की मूर्ति को चोर ले गए थे। ग्रामीण और पुलिस की ओर से तलाश के बाद ही अभी तक पुलिस मूर्ति का कोई सुराग नहीं लगा पाई। चोर मंदिरों में कीमती मूर्तियों और चांदी के भगवान के आभूषण चोरी कर रहे हैं। लाखों के छत्र और नकदी सहित कीमती सामन को चुरा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें