कोरोनाकाल / दिवंगत आत्माओं की अस्थि विसर्जन के लिए करौली से निशुल्क सौंरोजी बस भिजवाएंगे

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

करौली. कोरोनाकाल में दिवंगत आत्माओं की अस्थि विसर्जन नहीं कर पाने वाले परिवारों को सौंरोजी तक निशुल्क बस भिजवाई जाएगी। दरअसल, लॉकडाउन के दौरान कई घरों में बीमारी व सामान्य मौते भी हुई हैं, जिनकी अस्थियां लंबे समय से धार्मिक स्थल या पेडों की टहनियों से बंधी हुई हैं। स्वजनों को खो चुके ऐसे परिवारजनों के दु:ख दर्द को महसूस कर सांसद डॉ.मनोज राजोरिया ने गहरी संवेदना प्रकट करते हुए अपनी ओर से तीन दिवस में सौंरोजी तक अस्थि विर्सजन बस यात्रा की निशुल्क व्यवस्था करने की बात कही है।
सांसद डॉ.मनोज राजोरिया ने शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये पत्रकारों से खास वार्ता की। उन्होंने लॉकडाउन के दरम्यान जिले की धरातलीय स्थिति तथा शासन-प्रशासन के कार्यों की जानकारी ली। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज से आमजन को होने वाले फायदे गिनाते हुए आत्मनिर्भर भारत योजना पर भी प्रकाश डाला। जिले में मूलभूत विकास कार्यों के साथ ही मनरेगा के क्रिंयावयन में फर्जीवाड़ा, श्रम व सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग की योजनाओं में धांधली की जांच कराने, बैंकों से पात्रों को ऋण आदि बिंदुओं पर चर्चा की। भाजपा जिलाध्यक्ष बृजलाल डिकोलिया ने सांसद वीसी में कहा कि सपोटरा एसडीएम और कैलादेवी डीएसपी के विरूद्ध जांच से पहले उनको द से हटाया जाना जरूरी है। भाजपा ने आम गरीब व पात्र व्यक्तियों को राहत सामग्री पहुंचाने के लिए बूथ स्तर पर कार्य किया है। इस दौरान भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष कैलाश शर्मा, अशोक सिंह धाभाई, मुकेश सालौत्री, राजेंद्र शर्मा भी वीसी में लाइव रहे।
जनधन खातों में सीधा पैसा आया
सांसद मनोज राजोरिया ने कहा कि वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रत्येक व्यक्ति का जनधन योजना में बैंक खाता खुलवाया। जिनमें इस लॉकडाउन के दौरान केंद्र से सीधा पैसा डाला गया है। सांसद ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी का नाम लेकर कहा कि उनके पिता दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहा करते थे कि केंद्र से 100 प्रतिशत राशि भेजते हैं तो नीचे यानी गांव तक मात्र 15 प्रतिशत ही पहुंच पाता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना