पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वेदर अपडेट:अंधड़ से पेड़ टूटा, मुख्य मार्ग पर गिरा, 16 घंटे रास्ता बंद

करौली18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पटोंदा के आरओबी के पास अंधड़ से रास्ते में गिरा पेड़। - Dainik Bhaskar
पटोंदा के आरओबी के पास अंधड़ से रास्ते में गिरा पेड़।

कासं. कई दिनों से झुलसा रही भीषण गर्मी से शनिवार की रात क्षेत्र के लोगों को कुछ राहत मिली हैं। शनिवार की रात मौसम ने पलटा खाया और तेज अंधड़ के साथ करीब एक घंटे तक क्षेत्र के कई गांवों में अच्छी बारिश हुई। अंधड़ के कारण कई स्थानों पर घरों एवं दुकानों के टीन-टप्पर उडने के अलावा पेड़ उखड़ गए।

जिससे लोगों को भी नुकसान का सामना करना पड़ा है। पटोंदा में शनिवार की रात करीब 9 बजे एक विशालकाय नीम का पेड़ अंधड़ से टूटकर आरओबी सड़क मार्ग पर गिर गया। जिससे मार्ग से जुड़े करीब 6 गांवों का रास्ता करीब 16 घंटे तक बंद रहा। हिंडौन के अलावा कई गांवों में शनिवार की रात अंधड़ के साथ बारिश का दौर चला।

दिनभर गर्मी से लोग बेहाल थे। इसी बीच शनिवार रात करीब 7 बजे बाद अंधड़ का दौर शुरु हुआ। करीब आधा घंटे तक चली तेज हवाओं के बाद झमाझम बारिश का दौर शुरू हुआ। करीब एक घंटे हुई बारिश ने मौसम के मिजाज को पूरी तरह बदल दिया। बारिश से खेत खलिहान बारिश से लबालब हो गए।

16 घंटे बाद जेसीबी से हटवाया पेड़

पटोंदा. तेज अंधड़ से रात करीब 9 बजे गिरे विशालकाय पेड़ को रविवार को करीब 16 घंटे बाद जेसीबी से हटवाया जा सका। ग्रामीणों ने बताया कि अंधड़ से आरओबी के पास सड़क किनारे खड़ा विशालकाय नीम का पेड़ गिर गया था। इस मार्ग से पटोंदा, सनेट, भालपुर, कलारन का पुरा, चिम्मन पुरा, कजानीपुर आदि करीब आधा दर्जन गांवों का रास्ता जुडा हुआ है।

जो कि करीब 16 घंटे बंद हो गया। इस दौरान लोगों को इधर उधर से निकल कर अपनी मंजिल तक पहुँचना पड़ा। गनीमत यह रही कि यह पेड़ घरों की तरफ नहीं गिरा। अन्यथा एक बडा हादसा हो जाता। पेड़ के गिरने से घरेलू बिजली सप्लाई की लाइन टूट गई। जिससे लोगों को रात भर परेशानी का सामना करना पड़ा।

रविवार को दोपहर बाद सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता गजानंद मीना को ग्रामीणों ने दूरभाष पर जानकारी दी, तब कर्मचारियों के सहयोग से जेसीबी के द्वारा पेड़ को हटवाया गया। इसके बाद ही आवागमन सुचारू हो पाया।

खबरें और भी हैं...