जल संकट:6 वार्डों के लोगों का दूसरे दिन भी हंगामा, हिंडौन सिटी में रोज आधा घंटे होगी सप्लाई

करौली9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अवैध कनेक्शनों के कारण पानी की समस्या गहराई, अभियंताओं ने लिखित में आश्वासन दिया

शहर के शाहगंज पुरानी कचहरी टंकी से जुड़े 6 वार्डों के नल उपभोक्ताओं ने रविवार को दूसरे दिन भी पानी की समस्या को लेकर हंगामा किया। धरना एवं प्रदर्शन में दूसरे दिन रविवार को काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुईं। शनिवार को सुबह 6 बजे से पार्षद कप्तान सिंह, धर्मेन्द्र सिंह, वीना गुर्जर, वंदना शर्मा आदि के नेतृत्व में शुरु किए गए धरना-प्रदर्शन में रात को भी काफी लोग मौके पर ही डटे रहे और रविवार को सुबह भी टंकी से जुड़े वार्डों में पानी की सप्लाई नहीं खोलने दी।एक दिन के धरना प्रदर्शन के बाद भी जलदाय विभाग के अभियंताओं के मौके पर नहीं पहुंचने से नाराज लोगों ने रविवार को एसडीएम सुरेश कुमार यादव को अवगत कराया।इसके बाद जलदाय विभाग के अभियंता मौके पर पहुंचे। पहले तो लोगों ने उन्हें खरी-खोटी सुनाई, लेकिन बाद में अभियंताओं की समझाइश के बाद लोग धरना प्रदर्शन समाप्त करने को राजी हो गए। ऐसे में 28 घंटे बाद रविवार को करीब 10 बजे लोग अपने घरों को वापस आ गए।

वार्डों में 50 वर्ष पुरानी पाइप लाइन, वो भी कई जगह से क्षतिग्रस्त

वार्ड पार्षद धर्मेन्द्र गुर्जर ने बताया कि पुरानी कचहरी की टंकी से वार्ड 42,43,44,45,46 व 48 वार्ड के हजारों घर जुड़े हुए हैं। जिनमें कई माह से केवल 5 मिनट ही पानी आता हैं। इसका कारण है कि राइजिंग लाइन में 200 से अधिक अवैध कनेक्शन हैं और इस कारण टंकी भर नहीं पाती हैं। यही नहीं वार्डों में करीब 50 वर्ष पुरानी पाइप लाइन हैं, वो भी कई जगह से क्षतिग्रस्त हैं। कई कॉलोनियों में तो पाइप लाइन ही नहीं हैं। पानी की समस्या को लेकर इन वार्डों के काफी लोगों ने शनिवार को सुबह 6 बजे टंकी के पास पहुंचकर धरना-प्रदर्शन शुरु किया गया था, लेकिन किसी भी अधिकारी के नहीं पहुंचने पर रविवार को सुबह तक लोग मौके पर ही डटे रहे। रविवार को एसडीएम को अवगत कराने के बाद उनके निर्देश पर जलदाय विभाग के सहायक अभियंता भगवान सहाय मीना व कनिष्ठ अभियंता मौके पर पहुंचे। जिन्होंने लिखित में पानी की समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। इसके बाद ही लोग शांत हुए और अपने घरों को लौट आए।

खबरें और भी हैं...