पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वन विभाग अलर्ट,:टी-65 की मौत के बाद वन विभाग अलर्ट, अभयारण्य में बढ़ाई बाघों की चौकसी

खंडार20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बाघ टी-65 की दुखद मौत से घटना के बाद से क्षेत्र में वन विभाग पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। अभयारण्य में चौकसी बढ़ा दी गई है। वनकर्मियों द्वारा लगातार पूरे अभयारण्य की सघन गश्त की जा रही है। वहीं क्षेत्रीय वनाधिकारी विष्णु गुप्ता के नेतृत्व में विभाग की विभिन्न टीमों द्वारा घटनास्थल व आसपास के क्षेत्र में विशेष सर्च अभियान चलाकर मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। अभयारण्य में लगे फोटो ट्रेप कैमरों को भी खंगाला जा रहा है।

वहीं उच्चाधिकारियों द्वारा इस पूरे मामले की विशेष मॉनिटरिंग भी की जा रही है।6 माह के शावकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी अब मां परबाघ टी-65 बाघिन टी-19 (कृष्णा) व बाघ टी-28 (स्टारमेल) का बेटा था। वहीं बाघिन टी-69 बाघ टी-65 की साथिन रही है। यह जोड़ा तीन बार में 5 शावकों के रूप में अभयारण्य को बड़ी सौगात दे चुका है। इस जोड़े ने अंतिम बार दो शावकों को जन्म दिया, जो अभी 6 माह के ही हुए है। ऐसे में अब उनकी सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी बाघिन टी-69 (मां) पर आ गई है। इससे पहले इस जोड़े ने बाघिन टी-122 व बाघ टी-123 को जन्म दिया। वहीं इससे पहले इन्होंने बाघ टी-110 को भी जन्म दिया था।

खबरें और भी हैं...