पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पशुपालक परेशान:खिरनी के पशु चिकित्सालय में पिछले दो साल से डॉक्टर सहित तीन पद खाली

खिरनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक पशुधन सहायक के भरोसे चल रहा अस्पताल

कस्बे का राजकीय पशु चिकित्सालय में पिछले दो सालों से एक डाक्टर सहित तीन पद रिक्त होने से पशु पालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि राजकीय पशु चिकित्सालय में दो साल से एक डॉक्टर, एक पशु धन परिचर तथा सफाई कर्मी का पद लगभग दो सालों से रिक्त होने से कस्बे सहित आसपास के पुरा, जोलंदा, मोतीपुरा, मेदपुरा, बडौदिया, महेश्वरा, हथडौली, हरसोता, हरसोती गादोता, देवता, पूनेता, चांदनहोली, बडा गांव भडकोली, डिडवाडी, हिन्दुपुरा सहित कई गांवों के पशु पालक परेशान हाेते हैं। ऐसी स्थिति में पशु पालक अपने पशुओं के बीमार पड़ने पर निजी कंपाउंडरों से इलाज करवाते हैं,जिससे उन्हें इलाज के लिये मुंह मांगी राशि देनी पड़ती है।उनका कहना है कि पशु चिकित्सालय में कर्मचारियों का पद रिक्त होने के कारण मौसमी बीमारियों के चलते समय पर इलाज नहीं मिलने के कारण पशुओं की मौत हो जाती है।इससे पशुपालकों को बहुत आर्थिक नुकसान होता है। ग्रामीणों ने सम्बन्धित विभाग के उच्च अधिकारियों से पशु चिकित्सालय में रिक्त पदों पर कर्मचारी लगवाने की मांग की तथा चिकित्सालय परिसर में पशुओं के लिये तथा पशु पालकों के लिये पीने के पानी की व्यवस्था करवाने की मांग की है।पशु चिकित्सालय में नहीं पीने के पानी की व्यवस्था पशुधन सहायक सुरेश चन्द मीणा का कहना है कि पशु चिकित्सालय में शुरू से ही पशु पालकों तथा पशुओं के पीने के पानी की कोई व्यवस्था नही होने के कारण कभी कभार आने वाले पशु पालक बहुत परेशान रहते हैं। तथा पिछले साल कुछ समय के लिये डेपुटेशन पर एक पशुधन परिचर को छ माह के लिए लगाया गया था। उसके डेपुटेशन का समय भी पूरा होने के कारण उसे भी कहीं अन्यत्र जगह पर लगा दिया गया है। अब 1 जुलाई 2020 से पशु धन सहायक के भरोसे ही पशु चिकित्सालय चल रहा है तथा जुलाई माह से चिकित्सालय में किसी भी प्रकार की कोई दवाई उपलब्ध नहीं है। इससे दूर दराज़ के गांवों से आने वाले पशु पालक,कर्मचारियों के अभाव में अपने पशुओं का बिना इलाज करवाए ही वापिस लौट जाते हैं।बरामदे की टूटी पट्टी हादसे को दे रही न्योतापशु चिकित्सालय की कई सालों से मुख्य दरवाजे से प्रवेश करने वाले बरामदे की एक पट्टी टूटी हुई है जो कभी भी टूटकर गिरकर सकती है। इससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हा़े सकता है।झोला छाप डाॅक्टर लेरहे मनचाही राशिराजकीय पशु चिकित्सालय में पिछले दो सालों से कर्मचारियों के पद रिक्त होने तथा चिकित्सालय में समय पर दवाई उपलब्ध नहीं होने के कारण झोला छाप डाक्टरों की मौज हो रही है क्योंकि वे लोग पशु पालकों से इलाज के एवज में मनचाही राशि ले रहे हैं। ग्रामीणों सहित जनप्रतिनिधियों का कहना है खिरनी कस्बा बड़ा होने तथा कस्बे से बहुत सारे गांव सम्पर्क में होने के कारण पशु चिकित्सालय में जल्दी ही खाली पदों पर कर्मचारी लगवाने की मांग की है जिससे कि पशुपालक परेशान नहीं हो।पशुधन परिचर की व्यवस्था जल्द करेंगे सरकार के आदेश थे कि जहां पर पशुधन परिचर नहीं है वहां से चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को हटा दिया जाए, डाक्टर की व्यवस्था तो नहीं कर सकते लेकिन एक पशुधन परिचर की व्यवस्था सप्ताह में तीन दिन के लिए जल्दी ही करेंगे।-डॉ. अशोक गौत्तम,जोन डाॅयरेक्टर, पशु पालन विभाग, सवाई माधोपुर

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें