समस्या:बेसहारा मवेशियों से फसल को बचाने के लिए कड़ाके की सर्दी में खेतों पर रात बिता रहे किसान

कोटपूतली4 महीने पहले

जयपुर ग्रामीण सहित आसपास के क्षेत्रों में इन दिनों खेतों में खड़ी फसलों को आवारा पशु नष्ट कर रहे हैं। इसे बचाने के लिए किसानों को कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के बीच रात को खेतों में बैठ कर अलाव का सहारे गुजारनी पड़ रही है।

क्षेत्र के किसानों ने बताया कि गावों में इन दिनों सैकड़ों गोवंश व नीलगाय के झुंड एक साथ खेतों में खड़ी सरसों, गेहूं, चना, की फसलों को चट कर रहे हैं। किसान पशुओं से बचाव के प्रयास में जुटे हुए हैं। भैरू हुड्डा, संदीप सिंह, मनोज वर्मा, श्योपाल गुर्जर, हरदान गुर्जर आदि ने बताया कि रात होते ही आवारा गायों के झुंड फसलों के खेतों में आना शुरू हो जाता है। नीलगाय तो तारबंदी व बाढ़ के ऊपर से कूदकर खेतों में घुस जाती हैं। किसानों ने प्रशासन से मांग की है कि ग्राम पंचायत स्तर पर आवारा पशुओं को गो शालाओं में भिजवाया जाए।

खबरें और भी हैं...