ग्राम सांगटेड़ा की महिलाओं में रोष:अलवर गैंगरेप के मामले में महिलाओं ने मुख्यमंत्री को भेजा पत्र, कहा - आरोपियों को जीने का हक नहीं

कोटपूतली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोटपुतली के पास अलवर जिले में मूक बधिर बच्ची से गैंग रेप की घटना को लेकर ग्राम सांगटेड़ा की महिलाओं ने अपना गुस्सा दिखाया है। समाजसेवी रतन लाल शर्मा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र भेजकर बच्ची के साथ न्याय किये जाने व दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिए जाने की मांग की है।

मुख्यमंत्री नाम भेजा महिलाओं ने पत्र
मुख्यमंत्री नाम भेजा महिलाओं ने पत्र

इस दौरान महिलाओं में भारी रोष देखने को मिला। महिलाओं ने ऐसे दरिंदो के लिए विशेष कानून बनाने की मांग भी की है। सन्तोष देवी ने कहा कि ऐसे दरिन्दों को जीने का हक नहीं है। समाजसेवी रतन लाल शर्मा ने कहा कि सभ्य समाज में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है। भारत माता की इस पवित्र धरा पर ऐसी घटनाएं पूरे देश को शर्मसार करने वाली हैं। इस दौरान उर्मिला देवी, मोना देवी, सोनू देवी, पिंकी देवी, सुनीता देवी, करतार देवी, रमेश देवी, बिमला देवी, मुकेश देवी, टीना देवी, चिंकी देवी समेत कई महिलाएं मौजूद रहीं।

खबरें और भी हैं...