पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रवचन:अन्तःकरण में परमात्मा का निवास: संत गोपाल दास महाराज

लालसोट10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उपखंड मुख्यालय पर जमात में चल रही नौ दिवसीय दादू वाणी एवं राम कथा समारोह में प्रवचन देते हुए नरैना दादू धाम के पीठाधीश्वर संत गोपाल दास महाराज ने कहा कि मनुष्य के अंतःकरण में ही परमात्मा का निवास है। मनुष्य ईश्वर को जगह-जगह भटकता हुआ खोजता है। जिस तरह कस्तूरी मृग के शरीर में छुपी होती है, उसी तरह इंसान के अंतःकरण में भी परमात्मा का निवास है। इसलिए मनुष्य को चाहिए कि वह इधर-उधर मन भटकाने के बजाय मन को नियंत्रित कर ईश्वर की निष्काम भक्ति करें जिससे उसके जीवन का उद्धार हो सके।

उन्होंने कहा कि उच्च नीच का भेद खत्म कर सामाजिक समरसता के साथ रहे। प्रकृति का संरक्षण करे और जीव मात्र से प्रेम करे। छगन दास स्वामी, राजू स्वामी, कनीराम, सोहन दास, दीपक दास, विक्रम स्वामी,प्रभुदयाल, धनपत दास, रमेश, सुंदर दास, विष्णु,राजेश, पवन आदि मौजूद रहे। सांसद जसकौर मीणा ने दादू वाणी एवं राम कथा कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने राष्ट्रीय संत गोपाल दास महाराज से आशीर्वाद लिया। कहा, धार्मिक आयोजनों से मनुष्य को सद् मार्ग पर चलने की प्रेरणा मिलती है। इस तरह के आयोजन होते रहने चाहिए। लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए।

प्राणी मात्र अपने अंदर के छिपे राम को जिंदा रखें लालसोट | किशोरपुरा ग्राम में चल रही श्रीराम कथा महोत्सव के तीसरे दिन राष्ट्रीय संत मुरलीधर महाराज ने बाल कांड की कथा में प्रभु राम के जन्म का प्रसंग सुनाया। उन्होंने प्राणी मात्र से कहा कि वह अपने भीतर के राम को को जगाए रखें तथा जिंदा रखें। उन्होंने कहा कि राम का नाम ही जीवन का आधार है। उन्होंने कहा कि गाय को संरक्षण देने से ही भारतीय संस्कृति की रक्षा संभव है। उन्होंने कहा कि मनुष्य गृहस्थ जीवन में रहकर भी भगवान की आराधना कर सकते हैं। पति व पत्नी को एक सिक्के के दो पहलुओं की संज्ञा देते हुए गृहस्थी को आगे बढ़ाने का संदेश दिया। साथ ही भगवान की भक्ति के लिए गृहस्थ जीवन को ही श्रेष्ठ व अनुकूल बताया। इस अवसर पर संत मदन मोहन दास महाराज, महंत अवदेश दास, महंत रघुनाथ दास, संत जयराम दास, संत कपिल महाराज, संत बालक दास महाराज सहित विभिन्न संत, महंत व रामस्वरूप शर्मा व रामजी लाल गांधी, रामअवतार शर्मा आदि श्रद्धालु मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...