गो कथा:गायों के संरक्षण और संवर्धन के लिए भामाशाह आगे आएं, गो कथा के जरिए लोगों को बताएं गाय की महत्ता

महवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कस्बे के किले स्थित श्री कृष्ण गोपाल गौशाला में मंगलवार को गो पर्यावरण एवं अध्यात्म चेतना पदयात्रा के प्रणेता गो राष्ट्रीय संत श्री स्वामी गोपालानंद सरस्वती महाराज ने गौ माता के मानव के जीवन में महत्व पर चर्चा करते हुए कहा की गौ माता की रक्षा और सेवा संवर्धन के के लिए भामाशाह आगे आएं। इस दौरान उन्होंने महवा कस्बे के प्राचीन किले स्थित श्री कृष्ण गोपाल गौशाला का निरीक्षण कर गौशाला कमेटी के मंत्री गो पुत्र अवधेश अवस्थी सहित कमेटी के सदस्यों को सुझाव देते हुए गौशाला में गोकृपा कथा के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का आह्वान किया।

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के जीव जंतु कल्याण बोर्ड प्रतिनिधि अवधेश अवस्थी, राष्ट्रीय ग्वाल शक्ति सेना के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रामनारायण सैनी, राष्ट्रीय धेनु टीवी के डायरेक्टर अजीत शर्मा ने गौ माता के विषय पर चर्चा की। इस दौरान अतिथियों का पगड़ी पहनाकर स्वागत सम्मान किया गया।इस अवसर पर समाजसेवी मनोज गुर्जर, खेमचंद केवाडिया, शिवराम गुर्जर, अनिल गुर्जर, जितेंद्र गुर्जर, राजीव गुर्जर, बजरंग शर्मा, सत्यनारायण सैनी, जय सिंह बडगूजर, महेश सैनी, जितेश सिकलीगर, मोहित सैनी, राम हंस योगी, डॉक्टर माधव खंडेलवाल सुरजन रेवारी सहित अनेक गौ भक्त मौजूद थे।खाटूश्याम जी की 18वीं बस यात्रा रवानामहवा| श्री श्याम सखा सेवा समिति महवा के तत्वावधान में महवा से 55 सदस्यीय दल श्याम बाबा की जयकारों के साथ खाटू श्याम जी के लिए रवाना हुआ।

श्री श्याम सखा सेवा समिति महवा के महामंत्री पवन शर्मा ने बताया कि बस मेहंदीपुर बालाजी, दोसा, सैंथल, चौमू, रींगस होते हुए खाटूश्यामजी पहुंचेगी। जहां बाबा श्याम का कीर्तन कर बाबा श्याम को भोग लगाया जाएगा। उन्होंने बताया की हर माह के पहले मंगलवार को बस खाटू श्याम जी के लिए जाती हैं। इस दौरान जितेंद्र सिंहल, संतोष शर्मा, नीरज बंसल, डैनी सोनी, कन्हैया शर्मा, अमित पाराशर, दीपक, भीम चौबे, आदि खाटू श्याम जी के लिए रवाना हुए।

खबरें और भी हैं...