पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर एक्सक्लूसिव:1000 अफसरों ने 13150 सरकारी दफ्तर जांचे, 2200 के खुलने-बंद होने का काेई वक्त ही नहीं

जयपुर12 दिन पहलेलेखक: शिव प्रकाश शर्मा
  • कॉपी लिंक
सीकर के रानोली में पटवार भवन व राजीव सेना केंद्र पर दफ्तर के समय ताले लगे मिले। संभागीय आयुक्त ने पटवारी को बुलाकर ऑफिस खुलवाया। - Dainik Bhaskar
सीकर के रानोली में पटवार भवन व राजीव सेना केंद्र पर दफ्तर के समय ताले लगे मिले। संभागीय आयुक्त ने पटवारी को बुलाकर ऑफिस खुलवाया।
  • संभागीय आयुक्त ने जयपुर संभाग के 5 जिलों के सरकारी दफ्तर खंगाले
  • मनमानी ऐसी कि 4000 से ज्यादा अफसर लोगों से कब मिलेंगे? किसी को नहीं पता

ये है जयपुर संभाग के सरकारी दफ्तरों का हाल...यहां के 2200 ऑफिस तो ऐसे हैं, जहां खुलने-बंद होने का समय तक नहीं लिखा। 4034 कार्यालयों में अधिकारी कब आम लोगों से मिलेंगे- ये किसी को पता ही नहीं, न ही कहीं वक्त लिखा है। ये चौंकाने वाले खुलासे डिविजनल कमिश्नर की जयपुर संभाग के पांच जिलों के 13150 सरकारी ऑफिसों में निरीक्षण के बाद तैयार की गई माैका रिपाेर्ट में हुए हैं। पहला चरण 5-15 जनवरी तक व दूसरा चरण 5-6 फरवरी को चला। अभी तो पहले चरण के 13150 दफ्तरों की रिपोर्ट आई है, दूसरे चरण के 15030 दफ्तरों की रिपोर्ट बाकी है।

सामने आया कि 4300 कर्मचारियों के पास विभाग का पहचान पत्र तक नहीं पाया गया। इसके अलावा 4625 दफ्तरों में बेकार सामान बिखरा मिला। ये मौका रिपोर्ट भी किसी और की नहीं, बल्कि मॉनिटरिंग करने वाले संभागीय आयुक्त की है। जयपुर संभागीय आयुक्त पद पर नियुक्ति के बाद डाॅ. समित शर्मा ने संभाग और जिलास्तर पर टीमें बनाकर पहले चरण में करीब एक हजार अफसरों-कर्मचारियों के साथ मिलकर 13 हजार से अधिक दफ्तरों का निरीक्षण किया।

सरकारी दफ्तर इसीलिए बदनाम...ऑफिस टाइम पर लटका मिला ताला

सीकर के रानोली में पटवार भवन व राजीव सेना केंद्र पर दफ्तर के समय ताले लगे मिले। संभागीय आयुक्त ने पटवारी को बुलाकर ऑफिस खुलवाया।

ये 6 पैमाने थे

1. कार्यालयों की सेवाओं की सूची दर्शाने वाले बोर्ड हैं/नहीं। 2. कार्यालय खुलने और बंद होने का समय लिखा या नहीं। 3. कार्यालय पद्धति व राज्य कार्य निस्तारण में कैसा सुधार? 4. योजनाओं की धरातल पर क्रियान्वित की समीक्षा कैसी है? 5. लाभार्थियों को सेवाओं की प्राप्ति का भौतिक सत्यापन कैसा 6. परिचय पत्र, यूनिफॉर्म व दो कॉलम वाले उपस्थिति रजिस्टर के संधारण का निरीक्षण किया।

यहां हुआ निरीक्षण

सरकारी स्कूल 6603 आयुर्वेदिक औषधालय 1096 किसान केंद्र 772 परिवहन कार्यालय 32 आंगनवाड़ी केंद्र 483 पटवार भवन 450 पंचायती राज संस्थाए 1016 मेडिकल एंड हेल्थ 1057 राजस्व 346 आईटीआई 104 बिजली विभाग 173 आइसीडीएस व अन्य 536 ड्रग कंट्रोलर 10

एक सुखद तस्वीर भी... सरकारी दफ्तरों से 90% से ज्यादा टॉयलेट साफ मिले

12000 कार्यालयों के शौचालय सही पाए गए जबकि 900 में गंदगी पाई गई। 12280 कार्यालयों में पत्रावलियां व्यवस्थित थीं, 825 में अव्यवस्थित मिलीं। 129996 कार्यालयों में उपस्थित पंजिका का सही रूप से संधारण पाया गया। 12100 कार्यालयों में प्राप्त पत्रों पर समय पर कार्यवाही हो रही, 547 में पेंडेंसी। 11900 लाेगाें से पेंशन, खाद्य सुरक्षा, आर्थिक मदद, नि:शुल्क दवा, टीकाकरण, पोषाहार याेजनाओं के बारे में पूछा गया। इसमें सिर्फ 592 लाेग ही असंतुष्ट पाए।

दूसरे फेज में 15 हजार दफ्तर जांचे थे

  • संभागीय आयुक्त सहित 1000 अफसर-कर्मियों ने दूसरे चरण में 15030 दफ्तरों का निरीक्षण किया था। अलवर के 3676, दौसा के 1667, जयपुर के 4256, झुंझुनूं के 2456 एवं सीकर के 2513 दफ्तर शामिल हैं। कई की रिपोर्ट बाकी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

और पढ़ें