• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 1.10 Crore Children In The State Will Be Given 3 Doses Of 0.1ML At An Interval Of 28 28 Days; In Addition To Health Centers, The Idea Of Creating Sites In Schools Also

दिसंबर से 12-17 साल के एज ग्रुप का वैक्सीनेशन!:राजस्थान में 1.10 करोड़ बच्चों को 3 डोज देने की तैयारी, इंजेक्शन का दर्द भी नहीं होगा

जयपुरएक वर्ष पहलेलेखक: दिनेश पालीवाल

राजस्थान में दिसंबर से 12 से 17 साल के एज ग्रुप का वैक्सीनेशन भी शुरू हो सकता है। स्वास्थ्य विभाग ने राज्य में इस एज ग्रुप के 1.10 करोड़ किशोर-किशोरियों को चिह्नित किया है। विभाग के स्टेट लेवल की टीम को पिछले दिनों केन्द्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ट्रेनिंग भी दी थी। अब जल्द ही केंद्र सरकार की नई गाइडलाइन जारी होते ही स्टेट में नर्सिंग स्टाफ, एएनएम समेत वैक्सीनेशन करने वाली टीम को ट्रेनिंग दी जाएगी। खास बात है कि बच्चों का इंजेक्शन का दर्द भी नहीं होगा क्योंकि उन्हें स्पेशल जेट मशीन से टीका लगाया जाएगा। इस मशीन में सुई नहीं होती है।

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीए) ने जायडस कैडिला कंपनी की बनाई वैक्सीन को इमरजेंसी उपयोग की मंजूरी दे दी है। केन्द्र सरकार ने अब तक वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू नहीं किया है। पिछले दिनों केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने राजस्थान की सेंट्रल टीम को बच्चों की वैक्सीनेशन की ट्रेनिंग भी दी थी। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि दिसंबर में बच्चों का वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू कर दिया जाएगा। कितनी डोज लगेगी, उसकी क्या मात्रा होगी और डोज के बीच कितना गैप होगा यह सब कुछ तय हो चुका है। राजस्थान स्वास्थ्य निदेशालय में टीकाकरण परियोजना के निदेशक डॉ. रघुराज सिंह ने बताया कि हमारी सभी तैयारियां पूरी हैं। यहां तक की हेल्थ सेंटर के अलावा प्रदेश की स्कूलों को वैक्सीनेशन सेंटर बनाने की तैयारी सरकार कर रही है। ताकि एक भी बच्चा वैक्सीनेट होने से बच न जाए।

आइए जानते हैं बच्चों को लगने वाली वैक्सीन की क्या होगी खासियत और कितनी लगेगी डोज...

खबरें और भी हैं...