शिक्षा में रोजगार की बहार:1.70 लाख भर्तियां, नौकरी देने के मामले में नंबर वन

जयपुर2 दिन पहलेलेखक: विनोद मित्तल
  • कॉपी लिंक
सरकारी नौकरी पाने का इंतजार करने वालों के लिए शिक्षा विभाग में रोजगार की बहार आई हुई है। - Dainik Bhaskar
सरकारी नौकरी पाने का इंतजार करने वालों के लिए शिक्षा विभाग में रोजगार की बहार आई हुई है।

सरकारी नौकरी पाने का इंतजार करने वालों के लिए शिक्षा विभाग में रोजगार की बहार आई हुई है। सरकार के सभी विभागों से नौकरी देने के मामले में शिक्षा विभाग कोसों आगे हैं। पिछले साढ़े तीन सालों की बात की जाए तो अकेले शिक्षा विभाग में ही 1.70 लाख सरकारी नौकरियों की राह खुली है। इनमें से 64 हजार से अधिक पदों पर तो नियुक्ति दी जा चुकी है। अन्य एक लाख से अधिक पदों पर भर्ती की प्रक्रिया या तो चल रही है या फिर नई भर्ती जल्दी ही आने वाली है। भाजपा सरकार के कार्यकाल में चुनावी साल 2018 में निकाली गई कई भर्तियों में नियुक्ति देने का काम वर्तमान सरकार ने ही किया है।

शिक्षा विभाग में कई गई भर्तियों का आलम यह है कि हर कैडर की भर्ती निकली है। सहायक कर्मचारी से लेकर स्कूल व्याख्याता और हैडमास्टर तक के पदों पर भर्ती की गई है। वर्तमान में तृतीय श्रेणी शिक्षकों के 15500 पदों पर 25 मई तक नियुक्ति दी जाएगी। यही नहीं स्कूल व्याख्याता, वरिष्ठ अध्यापक के पदों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है और कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती के लिए जून में भर्ती परीक्षा होनी है। इतनी बड़ी तादात में एक साथ भर्तियां निकाले जाने से बेरोजगारों में जहां खुशी की लहर है वहीं वे यह भी चाहते हैं कि इन भर्तियों की परीक्षा तिथि जल्दी तय हो जाए तो वे टाइम टेबल बनाकर तैयारी कर सके।

अंग्रेजी माध्यम के लिए होगी 10 हजार शिक्षकों की भर्ती
अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों के शिक्षकों का अलग कैडर बनाने की घोषणा की गई थी। इसमें 10 हजार शिक्षकों की भर्ती होगी। सरकार लगातार महात्मा गांधी स्कूल खोले रही है। ऐसे में सरकार पर दबाव रहेगा कि इन 10 हजार पदों पर भी भर्ती प्रक्रिया जल्दी प्रारंभ की जाए। इसके लिए वित्तीय स्वीकृत, सेवा नियम बनाने, भर्ती के नियम व सिलेबस तय करने का काम भी जल्दी से जल्दी किया जाए।

शिक्षा के बाद सर्वाधिक भर्तियां चिकित्सा व पुलिस में : शिक्षा विभाग के अलावा सर्वाधिक नौकरियां चिकित्सा विभाग और पुलिस विभाग में ही दी गई है। चिकित्सा विभाग में चिकित्सा अधिकारी के 2733, नर्सिंग ग्रेड सेकंड के 6704, महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता के 4771, ईसीजी टेक्नीशियन के 162, आयुर्वेद कनिष्ठ कंपाउडर के 416 पदों पर नियुक्ति दी जा चुकी है।

अब फार्मासिस्ट भर्ती, लैब टेक्नीशियन भर्तियां भी आने वाली है। इस तरह से विभाग में कुल 15 हजार नौकरियां होती है। इसके अलावा इन साढ़े तीन सालों में कांस्टेबल के 4731 पदों पर भर्ती हो चुकी है और अब 4588 पदों पर कांस्टेबल भर्ती की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा सब इंस्पेक्टर भर्ती भी निकाली गई है। इस तरह से पुलिस में भी करीब 10 हजार पदों पर सरकारी नौकरी की राह खुली है। अन्य विभाग नौकरी देने के मामले में इन तीनों विभागों से काफी पीछे हैं।

इन पदों पर चल रही है भर्ती प्रक्रिया
पद का नाम - पदों की संख्या
तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती लेवल 1 - 15500
स्कूल व्याख्याता भर्ती 2022 - 6000
वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2022 - 9760
कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती 2022 - 10157
कुल - 41417
आने वाली भर्तियां
तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती - 46500
पीटीआई ग्रेड थर्ड - 5546
पीटीआई ग्रेड सेकंड - 461
प्रयोगशाला सहायक - 461
लाइब्रेरियन - 460
अंग्रेजी माध्यम के शिक्षक - 10000
कुल - 63428

शिक्षा विभाग लगातार भर्तियां निकाल रहा है। इससे बेरोजगारों के पास नौकरी लगने के एक से अधिक अवसर है। लेकिन सरकार को चाहिए कि शिक्षा विभाग में हो रही सभी भर्ती परीक्षाओं का कैलेंडर जारी किया जाए। इससे बेरोजगार कैलेंडर के हिसाब से अपनी तैयारी कर सके। - उपेन यादव, प्रदेशाध्यक्ष, राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ

युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार गंभीर है। शिक्षा विभाग में वर्तमान में रीट, वरिष्ठ अध्यापक, स्कूल व्याख्याता भर्ती की प्रक्रिया प्रारंभ हो चुकी है। आने वाले समय में भी कई अन्य पदों पर भर्तियां निकालकर बेरोजगारों को राहत प्रदान की जाएगी। - बीडी कल्ला, शिक्षामंत्री

खबरें और भी हैं...